सदन में चर्चा के दौरान ब्रिटेन के मंत्री आलोक शर्मा हुए बीमार, कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव

yamaha

लंदन। ब्रिटेन की संसद में चर्चा के दौरान भारतवंशी मंत्री आलोक शर्मा की तबीयत अचानक खराब हो गई। एहतियात के तौर पर उनकी कोरोना वायरस संक्रमण की जांच की गई। गुरुवार को हालांकि उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई

संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमंस में बुधवार को कॉरपोरेट इनसॉल्वेंसी एंड गवर्नेंस बिल पर चर्चा हो रही थी। तभी आलोक शर्मा असहज महसूस करने लगे और उन्हें पसीना आने लगा। बाद में उनकी कोरोना जांच कराई गई। एहतियातन उन्होंने खुद को घर में आइसोलेट कर लिया।

इससे पहले वह 10 डाउनिंग स्ट्रीट में ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और वित्त मंत्री ऋषि सुनक से मिल चुके थे। उनके बीमार पड़ने और कोरोना जांच को लेकर संसद में मौजूद नेताओं में हड़कंप मच गया था। लोगों के मन में आशंकाएं घर करने लगी थीं। शर्मा ने गुरुवार को ट्वीट कर खुद के कोरोना निगेटिव होने की सूचना दी। उन्होंने समर्थन के लिए नेताओं व लोगों का आभार जताया।

विश्वभर में बढ़ रहे कोरोना के संक्रमित

वहीं, दूसरी ओर विश्वभर में कोरोना के मामले कम नहीं हो रहे है। अमेरिका जैसे दुनिया के कई देशों में जहां कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा, वहीं न्यूजीलैंड और फिनलैंड में यह महामारी खत्म होती प्रतीत हो रही है। न्यूजीलैंड में लगातार 13वें दिन कोई नया मामला सामने नहीं आया। जबकि फिनलैंड में मध्य मई में स्कूलों को खोले जाने के बावजूद संक्रमण में गिरावट देखी जा रही है। इस यूरोपीय देश में रेस्तरां, लाइब्रेरी, थिएटर और स्पोर्ट कांप्लेक्स भी खोल दिए गए हैं। यूरोप में स्पेन, ब्रिटेन, इटली, जर्मनी और फ्रांस कोरोना महामारी से सबसे अधिक प्रभावित हैं। हालांकि अब इन यूरोपीय देशों में भी नए मामलों में कमी देखी जा रही है। 50 लाख की आबादी वाले न्यूजीलैंड में कोरोना संक्रमण का सिर्फ एक ज्ञात मामला है। हालांकि अधिकारियों ने यह आशंका जताई है कि सीमाओं को खोले जाने से दूसरी जगहों से संक्रमित लोग आ सकते हैं।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.