Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l

इंदौर से अवंतिका और शिप्रा एक्सप्रेस समेत छह ट्रेन चलाने की तैयारी शुरू

इंदौर। पश्चिम रेलवे ने इंदौर से संचालित होने वाली ट्रेनों में से छह का संचालन शुरू करने की तैयारी कर ली है। इनमें इंदौर-मुंबई अवंतिका एक्सप्रेस, महू-कटरा मालवा सुपरफास्ट, इंदौर-हावड़ा शिप्रा एक्सप्रेस, इंदौर-पुणे सुपरफास्ट, इंदौर-गांधी नगर शांति एक्सप्रेस और महू-कामाख्या एक्सप्रेस ट्रेन शुरू करने का प्रस्ताव शामिल है। माना जा रहा है कि रेलवे बोर्ड निकट भविष्य में जब भी और ट्रेन चलाने की घोषणा करेगा तो उसमें इंदौर की ये ट्रेनें भी शामिल रहेंगी।

पहले दौर में रेलवे बोर्ड ने देशभर की 200 ट्रेनें चलाने का एलान किया था, लेकिन उनमें इंदौर की एक भी ट्रेन शामिल नहीं थी। दूसरे चरण में चलने वाली ट्रेनों में इंदौर की पांच ट्रेनों को जोड़ा गया है। अवंतिका, मालवा और शांति एक्सप्रेस रोजाना चलती हैं, जबकि इंदौर-पुणे (22943-22944) सप्ताह में पांच दिन, शिप्रा एक्सप्रेस सप्ताह में तीन दिन और इंदौर-कामाख्या ट्रेन सप्ताह में एक दिन चलती है।

सूत्रों ने बताया कि रेलवे बोर्ड ने पिछले दिनों देशभर के मंडलों से उन संभावित ट्रेनों को चलाने के प्रस्ताव मांगे थे, जिन्हें चलाने के लिए रैक उपलब्ध है और तकनीकी रूप से उनके संचालन में कोई परेशानी नहीं है। उसी के बाद पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल ने इंदौर से चलने या गुजरने वाली छह ट्रेनों का संचालन दोबारा शुरू करने की अनुमति मांगी है। इंदौर से संबद्ध सभी ट्रेनों का संचालन कोविड-19 के कारण फिलहाल रद है।

गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद 1 जून से देशभर में 200 स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं। ऐसे में इंदौर से एक भी ट्रेन नहीं चली है। इसलिए लगातार मांग भी उठ रही थी कि इंदौर से भी ट्रेनों का संचालन शुरू किया जाए।