Logo
ब्रेकिंग
माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को

विक्ट्री साइन दिखाते हुए राज्यपाल से मिलने पहुंचे CM कमलनाथ, हार्स ट्रेडिंग को लेकर सौंपा पत्र

भोपाल: मध्य प्रदेश में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच सीएम कमलनाथ राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने पहुंचे हैं। खास बात यह रही है कि सीएम कमलनाथ ने मीडिया को विक्ट्री साइन दिखाते हुए राजभवन में एंट्री की। महामहिम राज्यपाल महोदय से मुलाक़ात के दौरान सीएम ने प्रदेश में भाजपा द्वारा की जा रही विधायकों की हॉर्स ट्रेडिंग को लेकर पत्र सौंपा। बताया जा रहा है कि इस दौरान वे विधानसभा सत्र को आगे बढ़ाने की भी मांग कर सकते हैं।

बता दें कि सिंधिया समेत 22 विधायकों के इस्तीफे से बीजेपी के हौंसले बुलंद है और पार्टी बिना देरी किए सरकार को फ्लोर टेस्ट के जरिए मात देने की कोशिश में हैं।ऐसे में गुरुवार देर रात 10:40 पर प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन भोपाल पहुंच गए। यह मुलाकात मध्य प्रदेश की मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम को देखते हुए काफी अहम मानी जा रही है।

PunjabKesari
PunjabKesari
PunjabKesari
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में जाने और उनके समर्थक मंत्रियो-विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल गहरे हो गए हैं। विधानसभा का सत्र 16 मार्च से है। बीजेपी राज्यपाल के अभिभाषण से पहले फ्लोर टेस्ट की मांग कर रही है। वहीं कांग्रेस ने भाजपा को जवाब देने की तैयारी कर ली है।

इसमें पहली मांग यह होगी कि बेंगलुरू में रखे गए सिंधिया समर्थक विधायक जब तक पेश नहीं होते, तब तक कांग्रेस सदन में फ्लोर टेस्ट के लिए नहीं जाएगी। कमलनाथ शुक्रवार को राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने के दौरान अपने मंत्रिमंडल से छह मंत्रियों को बर्खास्त किए जाने के भेजे गए पत्र को स्वीकृत करने का आग्रह करेंगे।

nanhe kadam hide