ठगों से 8.5 लाख में सौदा कर बेटी का एडमिशन कराने IIT दिल्‍ली पहुंचे दिलीप बैरंग लौटे, जानें पूरा वाक्‍या

yamaha

रांची। दिल्ली आइआइटी में दाखिले के नाम पर रांची के व्यवसायी से 8.50 लाख रुपये की ठगी करने वाले दो आरोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं। गिरफ्तार लोगों में दिल्ली निवासी हरिश्चंद्र गिरी और रांची के बीआइटी मेसरा निवासी राजकिशोर महतो शामिल हैं। दोनों को पुलिस ने लालपुर थाने के पास स्थित बंधन बैंक से दबोच लिया गया। दोनों गुरुवार को पीडि़त से 2.50 लाख रुपये और लेने पहुंचे थे।

पुलिस के अनुसार रांची के दीपाटोली के रहने वाले व्यवसायी दिलीप कुमार की बेटी का दाखिला आइआइटी दिल्ली के एमबीए विभाग में कराने का झांसा दे दोनों आरोपितों ने ठगी की है। पकड़े गए आरोपित में हरिश्चंद्र ने पुलिस को बताया है कि वह दिल्ली में ही एक स्कूल में प्रिंसिपल रह चुका है। वर्ष 2019 में उनका परिचय राजकिशोर महतो से हुआ था।

उसने खुद को दिल्ली के किसी कॉलेज का प्रोफेसर बताया था। उसी ने अपना सीनियर बता हरिश्चंद्र गिरी से बातचीत कराई। बातचीत के क्रम में हरिश्चंद्र गिरी ने 8.80 लाख रुपये में दाखिला कराने की बात कही। हरिश्चंद्र ने भरोसा दिलाया था कि एडवांस फीस लेकर मैनेजमेट कोटा से दाखिला करा देगा। उनके झांसे में आकर सात अलग-अलग ट्रांजेक्शन के जरिए 8.50 लाख रुपये खाते में जमा करा दिये।

दिल्ली आइआइटी पहुंचे, तब पता चला ठगे गए

दिलीप कुमार पूरे 8.50 लाख रुपये हरिश्चंद्र के खाते में जमा कराने के बाद दिल्ली आइआइटी पहुंच गए। वहां हरिश्चंद्र से बातचीत की। इसपर दाखिला हो जाने की बात कही, लेकिन कॉलेज के कार्यालय में जाकर मिले तो पता चला कि उनका दाखिला नहीं हुआ था। इसके बाद पता चला कि वे ठगे गए।

वहां से हरिश्चंद्र और राजकिशोर को कॉल किया तो दोनों का फोन बंद मिला। रांची लौटने के बाद जब फोन पर दोबारा संपर्क किया तो दोनों ने एडमिशन के लिए और ढाई लाख रुपये मांगे। इसपर दिलीप कुमार ने चालाकी दिखाई और दोनों को बंधन बैंक लालपुर बुलाया। यहां बुलाकर पुलिस की मदद से दोनों को दबोच लिया गया।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.