Logo
ब्रेकिंग
माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को

छात्रा के गर्भवती होने पर फूटा मौलाना का भांडा, मदरसा में पढ़ने वाली किशोरी से किया दुष्‍कर्म

रांची। राजधानी रांची के मांडर थाना क्षेत्र में एक मदरसे में पढ़ाने वाले मौलाना शाहिद द्वारा मदरसे में ही पढऩेवाली 12 वर्षीया किशोरी के साथ कई माह तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में मांडर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। मांडर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं पीडि़ता को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल रांची भेजा गया है।

लड़की द्वारा थाने में दिए गए आवेदन के अनुसार बकरीद के दिन नमाज अदा करने के बाद मौलाना उसे एक कमरे में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। साथ ही उसने इस घटना को किसी से न बताने की धमकी भी दी। इसके बाद आए दिन वह उसके साथ दुष्कर्म करने लगा और बराबर उसे धमकी भी देता रहा। इसी बीच वह गर्भवती हो गई। इसकी जानकारी मिलने पर मौलाना उसे रातू थाना क्षेत्र के संजीवनी अस्पताल ले गया, जहां उसे दो दिनों तक कई दवाइयां खिलाई गईं। दवा खाने से उसकी तबीयत जब बिगडऩे लगी, किशोरी ने सारी जानकारी अपने माता-पिता को दी।

मौलाना पर पहले भी लग चुके हैं ऐसे आरोप

इस घटना से पूर्व भी मौलाना शाहिद पर ऐसे आरोप लगते रहे हैं। ग्रामीणों के अनुसार कुछ माह पूर्व भी दो बार उस पर यौन शोषण का आरोप लगा था, पर तब मामले को दबा दिया गया था। ग्रामीणों के अनुसार इस बार भी उसने एक लाख रुपये में मामले को दबाने का सौदा तय कर लिया था। 85 हजार परिजनों को तथा 15 हजार दलालों को देना तय हुआ था।

nanhe kadam hide