Logo
ब्रेकिंग
माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को

फर्जी ज्वाइनिंग लेटर लेकर भारतीय सेना के कैंप में पहुंचे 3 युवक, दानापुर कैंट ने आर्मी इंटेलिजेंस को दी रिपोर्ट

रांची। सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले 40 वर्षीय पंकज कुमार सिंह को रांची की जगन्नाथपुर थाना पुलिस ने शनिवार रात धुर्वा पानी टंकी के पास स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। सेना के इंटेलिजेंस ब्यूरो की सूचना पर यह कार्रवाई की गई है। आरोपित के घर से सेना से जुड़े कई फर्जी दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। पुलिस को अभी तक नौकरी दिलाने के नाम पर पंकज द्वारा दर्जनों युवकों से करीब 57 लाख रुपये की ठगी की जानकारी मिली है।

आर्मी इंटेलिजेंस की शिकायत पर जगन्नाथपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। आरोपित की निशानदेही पर पुलिस संभावित  ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। जानकारी के अनुसार, आरोपित पंकज सिंह के पिता एचईसी में कार्यरत थे। उनका पूरा परिवार पानी टंकी के पास एचईसी की ओर से अलॉट क्वार्टर में रहता है। पुलिस ने शनिवार रात इसी घर से पंकज को दबोचा।

आरोपित की गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही रविवार को ठगी के शिकार 27 युवक अपने-अपने परिजनों के साथ जगन्नाथपुर थाना पहुंचे। इनमेेंअधिकतर युवक रांची, सिमडेगा, खूंटी, गुमला के ग्रामीण इलाके के रहने वाले हैं। युवकों का कहना था कि उनका मूल सर्टिफिकेट आरोपित के पास ही जमा है। युवक पुलिस से पैसे और सर्टिफिकेट वापस दिलाने की गुहार लगा रहे थे। ये लोग देर शाम तक थाना में ही जमे हुए थे। पुलिस ने युवकों को विश्वास दिलाया कि उनका सर्टिफिकेट जल्द मिल जाएगा।

तीन माह पूर्व तीन युवक पहुंचे थे दानापुर कैंट

करब तीन माह पूर्व भी तीन युवक फर्जी लेटर लेकर दानापुर कैंट ट्रेनिंग के लिए पहुंचे थे। तब दानापुर कैंट से इसकी सूचना रांची आर्मी इंटेलिजेंस को दी गई थी। वहां से बताया गया था कि रांची से सेना में नौकरी के नाम पर युवकों को ठगा जा रहा है। उस सूचना पर आर्मी इंटेलिजेंस की टीम लगातार नजर बनाये हुई थी। धुर्वा थाने में आरोपित के खिलाफ चेक बाउंस का एक मामला दर्ज है।

डाक से भेजा गया था ज्वाइनिंग लेटर

ठगी के शिकार युवकों ने बताया कि डाक विभाग के माध्यम से ज्वाइनिंग लेटर भेजा गया था। युवकों ने बताया कि दो माह पूर्व हिनू के एक होटल में मेडिकल जांच भी की गई थी। मेडिकल जांच में सभी को पास करने की बात कही गई। नौकरी दिलाने के नाम पर अभ्यर्थियों से तीन से पांच लाख रुपये तक लिए गए। आरोपित ने उन्हें भरोसा दिलाया था कि वह बिना भर्ती दौड़ में शामिल हुए नौकरी दिला देगा। आरोपित कहता था कि मेजर, कर्नल उसके हाथ में है।

पुलिसकर्मियों को भी लगा चुका है  चूना

आरोपित पकंज कुमार सिंह ने जमीन बिक्री के नाम पर भी कई लोगों को   चूना लगाया है। इनमें रांची में पदस्थापित कई पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। नाम नहीं उजागर करने की बात पर जगन्नाथपुर थाने में पदस्थापित कुछ पुलिसकर्मियों ने पंकज पर जमीन के नाम पर पैसे लेकर जमीन नहीं देने का भी आरोप लगाया है।

nanhe kadam hide