संघ प्रमुख मोहन भागवत आज से 5 दिनों तक रांची में, संघ समागम में देश के हालात पर गंभीर चर्चा

संघ के संगठन समागम में गुरुवार को संघ प्रमुख पूर्व गणवेशधारी स्‍वयंसेवकों को संबोधित करेंगे।

yamaha

रांची। संघ प्रमुख मोहन भागवत आज पांच दिनों के रांची दौरे पर आ रहे हैं। वे बुधवार को शाम में राजधानी पहुंचेंगे। राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ की ओर से आयोजित संघ समागम में हिस्‍सा लेने आ रहे आरएसएस के सरसंघचालक डॉ मोहन मधुकर भागवत इस दौरान पांच दिनों के रांची प्रवास पर रहेंगे। वे रांची के मोरहाबादी में डॉ रामदयाल मुंडा फुटबाल स्‍टेडियम में होन वाले संघ समागम में देश के ताजा हालात पर गंभीर चर्चा में शिरकत करेंगे।

आरएसएस की बैठक में ग्राम विकास, पर्यावरण संरक्षण और जैविक खेती पर होगी चर्चा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत कार्यवाह  राकेश लाल ने बुधवार को रांची में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि सर संघचालक मोहन भागवत के रांची आगमन के दौरान पांच दिवसीय बैठक में पर्यावरण संरक्षण, ग्राम विकास, जैविक खेती को बढावा देने आदि विषयों पर चर्चा होगी। 20 फरवरी के कार्यक्रम में सुबह 7.15 के बाद प्रवेश बंद कर दिया जाएगा।

संघ के संगठन समागम में गुरुवार को संघ प्रमुख पूर्व गणवेशधारी स्‍वयंसेवकों को संबोधित करेंगे। इसके बाद झारखंड बिहार के संघ के पदाधिकारियों के साथ उत्‍तर पूर्व क्षेत्र के संघ स्‍वयंसेवकों के साथ विभिन्‍न विषयों पर अलग-अलग बैठक करेंगे। इस बैठक में शाखा विस्‍तार, गांवों के विकास, पर्यावरण बचाने और गो सेवा आदि विषय पर भी बातें हो सकती हैं। माना जा रहा है कि सीएए, एनआरसी, एनपीआर और देश-राज्‍य के ज्‍वलंत मुद्दों पर भी संघ समागम में गहन मंथन हो सकता है।

बताया गया कि संघ प्रमुख का यह पांच दिवसीय प्रवास वर्तमान दौर में काफी अहम है। वे संगठनात्‍मक दृष्टि से प्रति वर्ष क्षेत्रवार प्रवास कर देश-राज्‍य के मसलों पर चर्चा करते हैं। इस बार तीन वर्ष पर झारखंड में डॉ मोहन भागवत का दौरा हो रहा है। अपने इस प्रवास के दौरान संघ प्रमुख 23 फरवरी को रांची से देवघर के लिए रवाना होंगे। इधर रांची के रामदयाल स्‍टेडियम के कार्यक्रम स्‍थल पर चाक-चौबंद सुरक्षा की व्‍यवस्‍था की गई है।

यहां अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। संघ समागम में बिना प्रवेश पत्र किसी को भी अंदर जाने की अनुमति नहीं है। यहां सुबह सात बजे तक ही प्रवेश की व्‍यवस्‍था की गई है। स्‍वयंसेवक अपनी शारीरिक क्षमता के प्रदर्शन के साथ ही गीत-संगीत की कला का प्रदर्शन भी करेंगे। संघ प्रमुख मोहन भागवत का संबोधन सुबह साढ़े सात बजे से शुरू होगा।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.