Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

संतालपरगना में राजनीतिक हलचल तेज l बाबूलाल के बयान के बाद प्रदीप यादव का पलटवार

रांची : झारखंड के पहले मुख्यमंत्री रह चुके बाबूलाल मरांडी के सबसे करीबी कांग्रेसी विधायक प्रदीप यादव ने बाबूलाल पर कड़ी टिप्पणी करते हुए निशाना साधा है। प्रदीप यादव ने कहा है कि बाबूलाल अब अटपटी बातें कह रहे हैं। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि बाबूलाल को गिरगिट छू दिया है, जिससे उनके रंग बार-बार बदल रहे हैं। प्रदीप यादव ने आखिर क्या कुछ कहा है, जरा सुन लेते हैं।

वीओ- इधर जब बाबूलाल पर कांग्रेसी नेताओं की तरफ से कड़ी टिप्पणी सामने आने लगे तो लाजमी है कि बीजेपी चुप नही रह सकती थी। ऐसे में बीजेपी के विधायक रंधीर सिंह ने कहा है कि प्रदीप यादव का जगह कांग्रेस में नहीं है। प्रदीप यादव को बीजेपी में आ जाना चाहिए। उन्हें पार्टी की तरफ से टिकट भी दिया जाएगा। साथ ही साथ उन्होंने बाबूलाल की तरफ से प्रदीप यादव के साथ का भी जिक्र किया है और कहा है कि प्रदीप यादव को तो राजनीति में बाबूलाल ने ही मौका दिया है।

फाइनल – दरअसल बाबूलाल की तरफ से झारखंड विकास मोर्चा का विलय बीजेपी में किए जाने के बाद उनके साथ के दो विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की कांग्रेस का हाथ थाम लिया। जबकि बाबूलाल ने बीजेपी में पुनर्वापसी की। बीजेपी ने भी बाबूलाल का पूरा सम्मान करते हुए प्रदेश अध्यक्ष के रुप में उन्हें स्थापित किया। लेकिन प्रदीप यादव और बंधु तिर्की को कांग्रेस में वह सम्मान नहीं मिला जो पहले उन्हें मिलता था। ऐसे में राजनीति में तो बयानबाजी होनी ही है। तो अब नए नए बयान और नई राजनीति झारखंड में जारी है।