Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर उपायुक्त की अध्यक्षता में हुआ कार्यशाला का आयोजन।

रामगढ़: राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर गुरुवार को उपायुक्त, रामगढ़ श्री चंदन कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया विषय पर जिले के पत्रकारों के साथ कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस दौरान सर्वप्रथम उपायुक्त, रामगढ़ श्री चंदन कुमार, उप विकास आयुक्त श्री रॉबिन टोप्पो, जिला शिक्षा अधीक्षक श्री संजीत कुमार एवं जिले के विभिन्न मीडिया संस्थानों के पत्रकारों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यशाला का शुभारंभ किया। कार्यशाला के दौरान उपायुक्त श्री चंदन कुमार ने सर्वप्रथम सभी पत्रकारों को राष्ट्रीय प्रेस दिवस की शुभकामनाएं दी जिसके उपरांत उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में कार्य करने वाले आप सभी पत्रकार देश के विकास का एक अहम हिस्सा है। दिन प्रतिदिन लोगों को कई आवश्यक जानकारियां देनी हो या सरकार की बातों से अवगत कराना हो, योजनाओं का लाभ हो या कोई और क्षेत्र निरंतर आप सभी के द्वारा कार्य किया जा रहा है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया विषय पर आयोजित इस कार्यशाला का उद्देश्य वर्तमान समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के उपयोग, इससे होने वाले फायदे एवं दुष्परिणामों के ऊपर चर्चा करना है। तकनीक के विकास के साथ वर्तमान में किसी भी असली अथवा नकली जानकारी में फर्क करना काफी मुश्किल हो गया है। मौके पर उपायुक्त ने विभिन्न उदाहरणों के माध्यम से वर्तमान में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के फायदे एवं विभिन्न नुकसानों की भी चर्चा की। कार्यशाला के दौरान आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया के कार्यों पर प्रकाश डालते हुए उपायुक्त ने कहा कि आने वाले समय में मीडिया की विश्वसनीयता ही सबसे अहम होगी क्योंकि तकनीक का इस्तेमाल कर कोई भी व्यक्ति बेहद कम समय में बड़े से बड़े कार्य को संपन्न कर लेगा।

लेकिन वह सही है अथवा नहीं एवं उन बातों का कितना लंबा प्रभाव होगा इसका फैसला सिर्फ इसी बात से होगा कि वे कितने विश्वसनीय है। मौके पर उपायुक्त ने पत्रकारों द्वारा समाज के विकास में किए जाने रहे कार्यों की सराहना करते हुए देश के विकास में सभी को अपना महत्वपूर्ण योगदान देने की अपील की। कार्यशाला के दौरान जिले के कई मीडिया संस्थानों के पत्रकारों ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया विषय पर अपने-अपनी बातों को रखा जिसमें ज्यादातर पत्रकारों ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के सदुपयोग पर जोर दिया। कार्यशाला का संचालन सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी शशांक शेखर मिश्रा एवं धन्यवाद ज्ञापन एसएमपीओ विक्रम सोनी द्वारा किया गया।