Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

खनिजों के अवैध परिवहन के विरूद्ध चलाया गया जांच अभियान, मालिक, चालक व अन्य पर दर्ज की गई प्राथमिकी।

रामगढ़: खान निरीक्षक रामगढ़ राहुल कुमार एवं स्थानीय पुलिस बल के द्वारा रामगढ़ थाना अन्तगर्त्त HP Petrol Pump के सामने, गोला- रामगढ़ मार्ग पर (कोठार) में अवैध रूप से बालू खनिज का उत्खनन कर प्रेषण करते हुए एक ट्रैक्टर को पकड़ा गया। जिसपर रजि० सं० अंकित नहीं है, POWERTRAC 434 नीला रंग T-3197570, B-107104, E- 3119124, इंजन एवं चेरीस सं० स्पष्ट रूप से अंकित नही है, डाला रजि० सं० अंकित नही है तथा बालू लगभग 100 (एक सौ) घनफीट लदा है। पुलिस बल को देखते ही चालक के फरार होने के उपरांत जांच के दौरान ट्रैक्टर पर बालू खनिज से संबंधित किसी प्रकार का दस्तावेज / परिवहन चालान नही पाया गया। उक्त ट्रैक्टर को पुलिस बल के सहयोग से जप्त कर रामगढ़ थाना परिसर मे सुरक्षार्थ सुपुर्द किया गया है साथ ही मालिक, चालक व अन्य संलिप्त व्यक्तियों पर उपरोक्त अधिनियम के साथ-साथ आईपीसी की सुसंगत धाराओं के तहत कार्यवाई की जा रही है।*

*उल्लेखनीय है कि बिना वैध परिवहन चालान के खनिजो का उत्खनन कर प्रेषण करना MMDR ACT, 1957 के धारा-4 (1) / 4(1A) का उल्लंघन है, जो धारा 21 के तहत दंडनीय है। उक्त कार्य झारखंड लघु खनिज समनुदान नियामवली 2004 के नियम 4 का उल्लंधन है जो नियम 54 के तहत दंडनीय है, साथ ही The Jharkhand minerals (prevention of illegal mining transportation and storage) rules 2017 के नियम 9 का उल्लंघन है जो नियम -13 के तहत दंडनीय है।