Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

रामगढ़ कॉलेज रण क्षेत्र में तब्दील स्टूडेंट और ग्रामीण आमने-सामने

ये नज़ारा हैं रामगढ़ महाविद्यालय का जो आज रण क्षेत्र में तब्दील होता नजर आ रहा है l
कॉलेज के स्टूडेंट और स्थानीय ग्रामीण एक दूसरे से टकराव की स्थिति में नजर आ रहे हैं l
पूरा कॉलेज पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है l
मांग हैं रामगढ़ कॉलेज की जमीन को भूमि माफियाओं से बचाने और कॉलेज के भूमि के नापी करने का हैl
यह तनावपूर्ण वाली आप स्थिति को आप देख रहे हैं जहाँ
एक ओर कॉलेज के स्टूडेंट और कॉलेज प्रबंधन बाउंड्री वॉल करने की मांग को लेकर उग्र तेवर में प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं तो वहीं दूसरी और अपने आवागमन का हवाला देते हुए जान दे देंगे पर बाउंड्री वाल नहीं होने देंगे का नारा देते हुए उक्त स्थल पर स्टूडेंट और ग्रामीण आमने-सामने चुनौती देते नजर आ रहे हैं l

आप वीडियो में देखें किस प्रकार से दोनों और उग्रतापूर्वक प्रदर्शन का नजारा देखने को मिल रहा हैं l हालांकि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए जिला पुलिस प्रशासन की टीम वहां मुस्तैद हैं l
आप कॉलेज के स्टूडेंट और छात्र नेताओं की बातों को सुने कि आखिर इनकी मांगे क्या है और क्यूँ ये लोग बाउंड्री वॉल करने की जिद को लेकर आज प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं l
आपने सुना कॉलेज के स्टूडेंट्स को अब स्थानीय ग्रामीणों को सुने जो किसी भी परिस्थिति में इस बाउंड्री वॉल को नहीं होने देने की चेतावनी दे रहे हैं अपनी जान तक देने की बात कर रहे हैं l और वह सवाल कर रहे हैं आखिर कौन है यह भूमि माफिया उनका नाम का खुलासा किया जाए
वही घटनास्थल पर पहुंचे रामगढ़ अंचल अधिकारी ने कि इस मामले की जांच करते हुए कॉलेज कि जमीन की माफी और कॉलेज के स्टूडेंट्स के हितों के साथ-साथ आम जनता के हितों का भी ध्यान रखने की बात कही l
सीओ साहब ने अपने बयान में तो कह दिया किस मामले पर जांच करते हुए न्याय संगत कार्रवाई की जाएगी जो दोनों पक्ष की मांग है कि की कॉलेज के जमीन की मापी हो और भूमि माफियाओं के नाम उजागर कर उन पर कार्रवाई होंगी l
लेकिन इस तरह के मामले रामगढ़ कॉलेज में कई बार आ चुके, कई बार स्टूडेंट आंदोलन भी कर चुके हैं l अधिकारी महोदय इसी तरह के बयान देकर निकल जाते हैं और फिर कुछ दिन के बाद इसी प्रकार कि तनाव वाली स्थिति देखने को मिलती है l जो कभी भी बड़े विपरीत स्थिति को जन्म दे सकती है, तो सवाल यह बनता है कि जिला प्रशासन क्यों नहीं जमीन की मापी करवाते हुए स्पष्ट कार्रवाई करती है जो दोनों पक्ष की मांग है? जिससे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाए,कॉलेज की जमीन भी बच जाए और अगर किसी ने कॉलेज के जमीन को अधिग्रहित किया हैं तो उन भूमि माफियाओं पर कार्रवाई भी हो जाए साथ ही यह जो बार-बार इस तरह की तनाव वाली स्थिति जन्म लेती है वह पूरी तरह से शांत हो जाए l