Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

उपायुक्त की अध्यक्षता में हुई जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक

रामगढ़: जिला समाहरणालय सभाकक्ष में उपायुक्त, रामगढ़ श्री चंदन कुमार की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक का आयोजन किया गया। चुट्टूपालू घाटी में हो रही सड़क दुर्घटनाओं के मद्देनजर बैठक के दौरान उपायुक्त ने पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय को एनएचएआई के अधिकारियों के साथ समन्वय करते हुए पूरे चुट्टूपालू घाटी में दुर्घटना संभावित स्थलों को चिन्हित करने एवं उन स्थलों पर पर्याप्त संख्या में साइनेज बोर्ड लगवाने व साइनेज बोर्ड पर दुर्घटना से बचाव संबंधित जागरूकता संदेश व एंबुलेंस सहित अन्य आवश्यक जानकारी होना सुनिश्चित कराने का कार्य 10 दिनों के अंदर पूर्ण करने का निर्देश दिया। चुट्टूपालू घाटी में लगाए गए लाइटों के कार्य नहीं करने व इसके कारण दुर्घटना की संभावना को गंभीरता से लेते हुए उपायुक्त ने एनएचएआई के अधिकारियों को तत्काल रुप से कर्मियों की प्रतिनियुक्ति करने एवं उनके माध्यम से सभी लाइटों का ससमय कार्य करना सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। वहीं उक्त आदेश की अवमानना होने पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी उपायुक्त द्वारा एनएचएआई के अधिकारियों को दी गई।
सड़कों के आसपास सूखे पेड़ों से दुर्घटना की संभावना के मद्देनजर बैठक के दौरान उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता पथ प्रमंडल सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को 3 दिनों के अंदर अपने-अपने क्षेत्रों में सड़कों के आसपास सभी सूखे पेड़ों को चिन्हित कर संबंधित सूची वन प्रमंडल पदाधिकारी के कार्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। बैठक के दौरान वन प्रमंडल पदाधिकारी, उप विकास आयुक्त, जिला स्तरीय वरीय पदाधिकारियों/ अधिकारियों, एनएचएआई के अधिकारियों, कार्यपालक अभियंताओं सहित अन्य उपस्थित थे।