Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

अक्षय पात्रा रसोई घर हज़ारीबाग के विकास की उपलब्धि

सांसद जयंत सिन्हा के प्रयासों से बन रहा विशाल रसोईघर

अब बच्चे भोजन के अभाव में शिक्षा से नहीं रहेंगे वंचित: जयंत सिन्हा

हजारीबाग/रामगढ़। हज़ारीबाग लोकसभा क्षेत्र के सांसद सह अध्यक्ष वित्त संबंधी संसदीय स्थायी समिति जयंत सिन्हा हज़ारीबाग लोकसभा के सर्वांगीण विकास हेतु निरंतर कार्यरत हैं। उनके प्रयासों से हज़ारीबाग में अक्षयपात्रा रसोईघर की परियोजना आकार ले रही है। जिसे बहुत जल्द पूरा कर लिया जाएगा। ₹27 करोड़ की लागत से डेमोटाण्ड में बन रहा यह रसोईघर ज़िले के 565 सरकारी विद्यालयों के लगभग 1 लाख बच्चों को रोज़ाना पौष्टिक मध्याह्न भोजन उपलब्ध करवाएगा। यह अक्षयपात्रा के विश्व के 5 सबसे बड़े रसोईघरों में से एक होगा।
जयंत सिन्हा ने बीते दिनों इस परियोजना का निरीक्षण कर अधिकारीयों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। यह रसोईघर अपने आप में विशिष्ट व अनूठा है, क्योंकि यह भोजन की उपलब्धता की क्षमता व गुणवत्ता में वृद्धि करेगा। साथ ही यह विश्वस्तरीय सुविधाओं से युक्त होगा। इसके निर्माण के लिये दुनिया भर से उपकरण मंगाए गए हैं और यहाँ बहुत सी चीजें गैस की जगह भाप से बनाई जाएंगी। यह रसोईघर बड़ी संख्या में रोज़गार का भी सृजन करेगा। इससे स्थानीय किसानों व व्यापारियों को भी सीधा लाभ मिलेगा। यहां खाना बनाने के लिए सब्ज़ी व राशन क्षेत्र से ही ख़रीदा जायेगा। इससे किसानों की आय में वृद्धि होगी।
जयंत सिन्हा ने इस परियोजना की परिकल्पना मानव संसाधन विकास को ध्यान में रखकर की है। जब बच्चों को नियमित रूप से गुणवत्ता पूर्ण भोजन मिलेगा तो उनका स्वास्थ्य बेहतर होगा और विद्यालय में उपस्थिति बढ़ेगी। पौष्टिक खाना खाने से कुपोषण में कमी आएगी और तन-मन सुदृढ़ होगा, जिससे बच्चे बेहतर पढ़ाई और प्रदर्शन कर सकेंगे।
जयंत सिन्हा के प्रयासों से अब इसी के तर्ज पर रामगढ़ में भी अक्षयपात्रा का विशाल रसोईघर बनाया जा रहा है। इसके लिए वे काफी समय से प्रयासरत थे। उन्होंने इसके निर्माण व संचालन के लिये सीसीएल से आग्रह किया और सीएसआर के माध्यम से ₹22 करोड़ की राशि की स्वीकृति दिलवाई है। इस रसोईघर के निर्माण हेतु ₹15 करोड़ व इसके संचालन पर ₹7 करोड़ की राशि की लागत आएगी। इस परियोजना को धरातल पर उतारने के लिये वे निरंतर जुटे हुए हैं और इस संबंध में रामगढ़ ज़िला प्रशासन, सीसीएल व अक्षयपात्रा की टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश व सहयोग प्रदान कर रहे हैं। यह रसोईघर सरकारी विद्यालयों के 50 हज़ार बच्चों को रोज़ाना पौष्टिक मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराएगा। इसे अगले 2 वर्षों में तैयार कर लिया जाएगा।
जयंत सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अब हज़ारीबाग व रामगढ़ का कोई बच्चा भोजन के अभाव में शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा। यह हमारे लिए बेहद हर्ष और गर्व की बात है कि पूरे संसदीय क्षेत्र में बच्चों को पौष्टिक भोजन दिया जाएगा। बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए मैं इस रसोईघर का निर्माण करवा रहा हूँ। जब बचपन पोषित होगा तो क्षेत्र उन्नत बनेगा। उन्होंने माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में इन विशाल परियोजनाओं को हर सहयोग उपलब्ध करवाने हेतु माननीय केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी व माननीय केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान जी का हार्दिक आभार व्यक्त किया।