Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

फर्स्ट राउंड चुनाव परिणाम :5838 वोट से एनडीए प्रत्याशी सुनीता चौधरी आगे, रामगढ़ उपचुनाव प्रथम चरण में 5838 वोट से एनडीए प्रत्याशी सुनीता चौधरी आगे, सुनीता चौधरी को 12910 और यूपीए प्रत्याशी बजरंग महतो को 7072 मत प्राप्त हुए ।

रामगढ़ उपचुनाव के आज 02 मार्च को आएंगे नतीजे 11 राउंड में 40 टेबल पर हो रही है काउंटिंग, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम.

झारखंड के रामगढ़ विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज जारी कर दिए जाएंगे. 11 राउंड में 40 टेबल पर हो रही है काउंटिंग, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम. इस सीट पर कुल 67.96 फीसदी वोटिंग हुई है, जिसमें 2,28,152 वोटरों ने अपने अधिकारों का इस्तेमाल किया. उपचुनाव में मतदान शांतिपूर्ण रहा. किसी प्रकार की हिंसा या गड़बड़ी की खबर नहीं मिली थी.
इस सीट पर मुख्य मुकाबला आपराधिक मामले में सजायाफ्ता कांग्रेस की ममता देवी के पति बजरंग महतो एवं बीजेपी समर्थित आजसू उम्मीदवार और सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी की पत्नी सुनीता चौधरी के बीच है. अभी कुछ ही देर में रुझान सामने आने शुरू हो जाएंगे. इस सीट पर 27 फरवरी को हुए मतदान के लिए मतदान केंद्रों पर सुबह से ही लंबी कतारें नजर आ रही थी. उपचुनाव में मतदान के लिए नौजवान, बुजुर्ग एवं महिलाओं में खासा उत्साह देखने को मिला था. मतदान केंद्र पर लोग बड़ी तादाद में देखे गए. रामगढ़ की जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त माधवी मिश्रा ने बताया कि मतदान उपचुनाव में शाम पांच बजे तक 67.96 फीसदी मतदान हुआ था.

एक नजर डालें इस सीट पर

इस सीट पर ममता देवी ने 2019 में कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर जीत दर्ज की थी, लेकिन एक आपराधिक मामले में पांच साल की सजा होने के के चलते उनकी विधायकी चली गई और इसी वजह से यहां हो रहे उपचुनाव हैं जिसमें कांग्रेस ने उनके पति को प्रत्याशी बनाया है.

वहीं दूसरी ओर इस मुकाबले गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी की पत्नी और आजसू पार्टी की सुनीता चौधरी चुनाव मैदान में हैं उनको एनडीए ने संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतारा है. सुनीता चौधरी 2019 के चुनाव में भी उम्मीदवार बनी थीं लेकिन त्रिकोणीय मुकाबले में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. बीते दिनों कांग्रेस नेता राजकिशोर बाउरी उर्फ बिदका की तीन अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी जिससे चुनाव के माहौल में तनाव आ गया. हालांकि मतदान शांतिपूर्ण रहा.