Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

कलयुगी बेट ने पीट-पीटकर की पिता की हत्या, कंबल में शव लपेटा, पत्थर से बांध कुएं में फेंका, एक गलती से खुला राज

रामगढ़ : झारखंड के रामगढ़ जिले में एक युवक ने अपने पिता की पीट-पीटकर हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि युवक पिता की शराब पीने की आदत से तंग आ गया था. आरोपी युवक का पिता उसकी मां के साथ शराब पीकर मारपीट करता था. हत्या करने के बाद मां-बेटे ने लाश को कंबल से लपेटकर, पत्थर बांधकर एक कुएं में फेंक दिया और खुद ही थाने में जाकर अपने पिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी. हालांकि तमाम साजिशों के बावजूद आखिरकार पुलिस ने आरोपी मां-बेटे को पिता की हत्या के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया.दरअसल, घटना कुजू थाना क्षेत्र के दिग्वार गांव की है. दिग्वार गांव निवासी 55 वर्षीय शिवनारायण कुशवाहा की लाश को पुलिस ने गांव के बाहर एक कुंए से बरामद किया था. शव को देखकर पुलिस को आशंका हुई कि आत्महत्या नहीं बल्कि यह हत्या है, क्योंकि बरामद शव कंबल से लपेटा हुआ था और एक पत्थर से बंधा हुआ था. इसके बाद मामले की जांच में जुटी कुजू थाना पुलिस को यह पता चला कि बरामद शव जिस शिव नारायण कुशवाहा का है, उसके 23 वर्षीय बेटे गणेश कुशवाहा ने तीन दिन पहले ही अपने पिता की गुमशुदगी को लेकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

पुलिस पूछताछ में कबूली हत्या की बात

कुजू थाने की पुलिस ने पूछताछ के लिए मृतक के बेटे और पत्नी को बुलाया. बेटे ने बताया कि उसके पिता पिछले एक सप्ताह से लापता थे. काफी खोजबीन के बाद जब उनका कुछ अता-पता नहीं चला तो उसने तीन दिन पूर्व ही कुजू थाने में जाकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. पुलिस को शक होने पर कड़ाई से मां-बेटे से पूछताछ करने पर दोनों टूट गए और दोनों ने हत्या की बात को कबूली. हत्या के आरोप में पुलिस ने मां भागीरथी देवी और बेटे गणेश कुशवाहा को गिरफ्तार कर लिया.

शराब पीने का आदी थी पिता

मृतक नारायण कुशवाहा के 23 वर्षीय बेटे गणेश कुशवाहा ने बताया कि उसके पिता शराब के आदी थे. अक्सर शराब पीकर घर आते थे और मां के साथ मारपीट और अन्य तरह के अत्याचार किया करते थे. पिता की इन्हीं हरकतों से तंग आकर बेटे ने लाठी-डंडे से मारकर उनकी हत्या कर मां के साथ मिलकर एक षड्यंत्र के तहत कंबल में लपेट कर पत्थर से बांधकर गांव के बाहर एक सरकारी कुएं में पिता की लाश को फेंक दिया और खुद ही थाने में जाकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा कर पूरे गांव कि लोगों के बीच अपने पिता के एक सप्ताह से लापता होने की बात फैला दी, ताकी किसी को उन पर शक न हो.

एसडीपीओ ने दी वारदात की जानकारी

इधर, मामले को लेकर रामगढ़ एसडीपीओ किशोर कुमार रजक बताया कि हत्या के आरोपी मां-बेटे को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों के विरुद्ध मृतक की बेटी ने भी बयान दिया है. मृतक की बेटी ने बताया कि उसके पिता मां के साथ शराब के नशे में अक्सर मारपीट किया कर सकते थे. इस कारण से भाई ने की हत्या कर शव को कुएं में फेंक दिया था. पिता की हत्या में मां-बेटे की गिरफ्तारी को लेकर गांव के लोगों के बीच तरह-तरह की चर्चा हो रही है. लोग विश्वास नहीं कर पा रहे हैं कि एक बेटे ने अपने ही पिता की कत्ल कर दिया और झूठी गुमशुदगी की अफवाह फैला दी.