Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

झारखंड की सबसे लंबी पहाड़ो के अंदर बनी रेलवे सुरंग सहित चार सुरंग पर स्पीड ट्रायल हुई।

बरकाकाना/रामगढ़ : झारखंड की सबसे लंबी पहाड़ो के अंदर बनी रेलवे सुरंग सहित चार सुरंग पर स्पीड ट्रायल हुई। चार सुरंगों से होकर गुजरेगी रांची के लिए ट्रेन, सिधवार से सांकी नई रेल लाइन का हुआ सीआरएस स्पीड ट्रायल।

झारखंड की सबसे लंबी पहाड़ो के अंदर 1700 मीटर बनी रेलवे सुरंग सहित चार रेलवे सुरंग पर मंगलवार को स्पीड ट्रायल किया गया।
रामगढ जिले के बहुप्रतीक्षित रांची कोडरमा वाया बरकाकाना रेल लाइन पर सिधवार से सांकी स्टेशन के बीच सीआरएस स्पीड ट्रायल शुरू हुई, जिसमें सीआरएस शुभोमोई मित्रा सहित रेल के कई अधिकारी मौजूद थे, सभी अधिकारी 11ट्रॉली पर बैठकर सिधवार से सांकी 26 किलोमीटर तक की, नई रेल लाइन पर स्पीड ट्रेन शुरू किया, इस दौरान रेल लाइन पर सिधवार सुरंग, मसमोहना सुरंग, हेहल सुरंग, कट एंड कवर सुरंग और बारीडीह सुरंग का अवलोकन किया गया, अधिकारियों ने स्पीड ट्रायल के क्रम में बृज ,मोड़, विद्युतीकरण, आरयूबी का निरीक्षण किया।
सीआरएस ट्राइल से क्षेत्र के लोगों में बड़ी उत्सुकता, ग्रामीण लोगों ने कहा कि आजादी के कई दशक बीत जाने के बाद अब हम लोगों के गांव में रेलवे स्टेशन पूरी तरीके से बनकर तैयार है, अब हम लोग रेल में बैठकर एक जगह से दूसरी जगह आसानी से जा सकते हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ेगी रोजगार, बारीडीह के ग्रामीणों ने हेहल रेलवे स्टेशन पहुंचकर लोगों ने खुशी का इजहार किया, ग्रामीणों ने कहा कि इससे पहले कभी भी यहां पर ट्रेन नहीं आई थी, आज हेहल स्टेशन में ट्रेन देखने को मिला है, अब क्षेत्र में रोजगार के आसार काफी बढ़ेंगे, साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में पैदा होने वाली सब्जी एक जगह से दूसरी जगह पर भी जाकर बेच सकते हैं जिससे अच्छी खासी रकम मिल पाएगी।