सिखों के दसवें गुरु, गुरु गोविंद सिंह का 355वां प्रकाश पर्व मनाया गया, #रामगढ़ में सजाया गया विशेष दीवान

हजूरी रागी भाई कंवलदीप सिंह जी ने अपने मधुर गायन सबद कीर्तन से साध संगत को निहाल किया

yamaha

रामगढ़ : दुनियाभर में सिखों के दसवें गुरु, गुरु गोविंद सिंह का 355वां प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। इस अवसर पर अमृतसर का स्वर्ण मंदिर रोशनियों के बीच जैसे खिल सा उठा। बेहद ही मनमोहक और आकर्षक नजारे के बीच आतिशबाजी से स्वर्ण मंदिर का आकाश भी जगमगा उठा।
दियों की कतारें दीवाली का अहसास करा रही थीं, वही झारखंड के रामगढ़ गुरुद्वारा साहिब में साहिब श्री गुरु गोविंद सिंह के 355 वे प्रकाश उत्सव को लेकर विशेष दीवान सजाया गया। दरबार साहिब के हजूरी रागी भाई कंवलदीप सिंह जी ने अपने मधुर गायन सबद कीर्तन से साध संगत को निहाल किया। कीर्तन से पूर्व भाई कंवलदीप सिंह जी ने गुरु गोविंद सिंह जी के इतिहास के बारे में जानकारी दी। कोरोना के बावजूद भी संगत में उत्साह में कमी नहीं थी वही और भी उमंग और उत्साह के साथ शब्द कीर्तन किया । आपको बता दें कि पिछले 5 दिनों से रामगढ़ गुरुद्वारा साहिब से प्रभात फेरी निकाली जा रही थी संगत ने कड़ाके की ठंड होने के बावजूद अपनी हाजिरी प्रभात फेरी में दिखाई जो बेहद ही काबिले तारीफ है । रामगढ़ गुरुद्वारा साहिब के हेड ग्रंथि बाबा गुरजीत सिंह जी ने साहिब श्री गुरु गोविंद सिंह जी के इतिहास के बारे में साध संगत को जानकारी दी। वही रामगढ़ गुरुद्वारा साहिब के प्रधान परमदीप सिंह कालरा ने सभी साध संगत को गुरु गोविंद सिंह जी के जन्म उत्सव को लेकर बधाई दी है ।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.