Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

भाजपा नेता नीरज ने गरीब और अनाथ बच्चों के बीच केक काटकर व खाना खिला अपना जन्मदिन मनाया

रामगढ़ : मानव सेवा को परम धर्म मानते हुए अपनी खुशी के पल को जरूरतमंद और और असहाय बच्चों के बीच व्यतीत करते हुए अपना जन्म दिवस मनाया ।

भाजपा के युवा नेता नीरज प्रताप सिंह ने बेहद ही अनोखे तरीके से अपना जन्मदिन बनाया। नीरज प्रताप सिंह ने अपना जन्मदिन रामगढ़ के डिवाइन ओंकार मिशन में अनाथ बच्चो के साथ मनाया। उन्होंने बताया कि ये जो बच्चे हैं वो भगवान के स्वरूप हैं, और कहा कि असल में ये भगवान के बच्चे हैं।

नीरज प्रताप सिंह अपने परिवार और समर्थकों के साथ डिवाइन ओंकार मिशन के बच्चों के साथ काफी अच्छा समय व्यतीत किया, सब ने साथ बैठकर खाना भी खाया। नीरज ने डिवाइन ओंकार मिशन के संचालक राजेश नेगी को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके संस्था द्वारा बहुत ही अच्छे तरीके से बच्चों की परवरिश की जा रही है। वही इस कोरोना की विकट परिस्थितियों के मद्देनजर नीरज सिंह ने बच्चों को कोरोना के प्रति जागरूक करते हुए इससे कैसे बचा जाए इससे संबंधित जानकारियां दी।

नीरज प्रताप सिंह ने आम जनता से भी अपील किया की जब भी, जहां भी ,संभव हो किसी के ज़िन्दगी में कुछ सकारात्मक बदलाव करने की कोशिश करनी चाहिए। सामाजिक कार्य का अर्थ है सकारात्मक, और सक्रिय हस्तक्षेप के माध्यम से लोगों और उनके सामाजिक माहौल के बीच अन्तःक्रिया प्रोत्साहित करके व्यक्तियों की क्षमताओं को बेहतर करना ताकि वे अपनी ज़िंदगी की ज़रूरतें पूरी करते हुए अपनी तकलीफ़ों को कम कर सकें।
मौके पर भाजपा के राहुल शर्मा, दीपक तिवारी, बाबू सिंह, सद्दिर शाह,संतोष , सुधांशु, सीखा चक्रबर्ती आदि लोग मौजूद थें।