Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

कोरोना का खौफ : व्यापारी सरकार से कर रहे हैं जल्द लॉकडाउन करने की मांग

रामगढ़ के व्यापारियों ने किया सेल्फ लॉकडाउन की घोषणा

रामगढ़ : कोरोनावायरस के विकराल होते रूप को देख राजधानी रांची के बाद अब रामगढ़ जिले के व्यवस्थाई और कारोबारी सरकार से लॉकडाउन लगाने की मांग कर रहे हैं रामगढ़ जिले के समाजसेवी व्यवस्थाई और चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष ने सरकार से त्वरित कार्रवाई करते हुए 15 दिनों के लॉकडाउन लगाने की अपील की है ।

कोरोना के चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन ही एक मात्र रास्ता : पंकज तिवारी

चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पंकज तिवारी और व्यवसाय विजय मेवाड़ लॉक डाउन की मांग कर रहे हैं उनका कहना है की प्रदेश में स्वस्थ सेवाएं सीमित है और कोरोना का प्रकोप दिन प्रतिदिन जिले में बढ़ता ही जा रहा है और अब सिर्फ लॉक डाउन ही एक मात्र अहम रास्ता है कोरोना के चैन को तोड़ने का ।

लॉक डाउन ही एक मात्र रास्ता है कोरोना के चैन को तोड़ने का : विजय मेवाड़

चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पंकज तिवारी और व्यवसाई विजय मेवाड़ लॉक डाउन की मांग कर रहे हैं उनका कहना है कि लॉक डाउन ही एक मात्र रास्ता है कोरोना के चैन को तोड़ने का । रामगढ़ जिले को कोरोना वायरस से बचाने के लिए एक पखवाड़े (15 दिन) लॉकडाउन का होना बेहद जरूरी है। लॉकडाउन की मदद से कोरोना संक्रमण के लिए चेन ऑफ ट्रांसमिशन को तोड़ना आवश्यक है इसलिए लॉकडाउन जरूरी है। प्रदेश में स्वस्थ सेवाएं सीमित है और कोरोना का प्रकोप दिन प्रतिदिन जिले में बढ़ता ही जा रहा है।

आपने सुना क्या कह रहे हैं चेंबर के अध्यक्ष, समाज सेवी और कारोबारी लोग सब की मांग है लॉकडाउन और यह बेहद जरूरी भी है । क्योंकि
कोरोना का कहर रामगढ़ जिले में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। जिला प्रशासन और पुलिस लोगों को जागरूक करने की हर संभव प्रयास कर रही है, इस महामारी के भयावहता से लोगों को अलर्ट भी किया ।

इसके बावजूद जिले में 900 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। अब तक कई लोगों
की जान भी जा चुकी है। सरकार ने लॉकडाउन करने का फैसला तो नहीं लिया है, लेकिन व्यापारी अपनी और ग्राहकों की जान बचाने के लिए खुद ही अपने प्रतिष्ठान बंद कर रहे हैं। जिले के बड़े प्रतिष्ठानों के संचालक ने खुद ही ठोस कदम उठाते हुए अपने प्रतिष्ठान को सेल्फ लॉकडाउन की घोषणा करने की तैयारी में जुट गए है ।