Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

होली के बाजार पर दिख रहा कोरोना का असर, दुकानें सजी पर ग्राहक कम

जबलपुर। रंग-गुलाल, तरह-तरह की आकर्षक पिचकारी के साथ ही कई प्रकार के मुखौटे। होली आने वाली है इसकी सूचना बाजार की रौनक को देखते ही मिल जाती है। हर बार की तरह इस बार भी बाजार तो सजा है मुखौटे, रंग-गुलाल भी हैं लेकिन खरीदारों की संख्या बहुत कम दिख रही है। बाजार में लोग पहुंच तो रहे हैं लेकिन जैसी रौनक होना चाहिए वैसी नहीं है। पहले से ही लॉकडाउन की मार झेल रहे व्यापारियों के चेहरे माहौल को देखकर उतरे हुए नजर आ रहे हैं।

ग्राहकों की कमी से व्यापारी मायूस: व्यापारियों का कहना है कि इस पूरा साल यही हाल दिख रहा है। जो बहुत ही जरूरी सामान हैं लोग बस उन्हें ही ले रहे हैं। ग्राहकी अपेक्षाकृत बहुत कम है।त्योहारों से थोड़ी उम्मीद रहती है लेकिन इस बार तो त्योहार आने के पहले ही फिर से कोरोना का संक्रमण बढ़ने की खबर आ गई। जिसने सारे उत्साह पर पानी फेर दिया। कुंदन राठौर ने बताया कि होली पर इस बार क्या ट्रेंड रहेगा। नई पिचकारियों का क्या क्रेज है, कौन सा माल मंगवाना है यह सारी तैयारियां महीने भर पहले से शुरू हो जाती हैं। सोचा था कि स्थिातियां सुधरी तो होली पर थोड़ी कमाई हो जाएगी। लेकिन एक बार फिर कोरोना संक्रमण की खबर ने हम व्यापारियों की कमर तोड़ दी है। अधिकांश लोग रविवार को ही बाजार आते हैं। रविवार को लॉकडाउन करने से बाजार के माहौल पर बहुत असर पड़ा है। रात में भी जल्दी दुकाने बंद करना पड़ती हैं।

मिठाइयाें की दुकानें भी फीकी: सिर्फ रंग-गुलाल ही नहीं मिठाइयाें की दुकानों के भी हाल अच्छे नहीं हैं। मिठाई व्यापारी चंदन असरानी ने बताया कि लोगों ने सोच लिया है कि घर पर ही मिठाई वगैरह बनाना है। बाजार से नहीं लेना है। कुछ ही लोग हैं जो बाजार से मिठाई-नमकीन ले रहे हैं।