Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

इंदौर में देर रात दो बदमाशों की चाकुओं से गोदकर हत्या

इंदौर। बाणगंगा थाना क्षेत्र की कालिंदी गोल्ड कालोनी के मेन रोड पर दो युवकों की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। दोनों युवकों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज थे। घटनास्थल से 200 मीटर दूरी पर खून भी मिला है। जिससे लग रहा है कि उनका हमला करने वालों से संघर्ष भी हुआ है। एएसपी शशिकांत कनकने के अनुसार घटना बुधवार देर रात की है। सूचना मिली थी कि कालिंदी गोल्ड मेन रोड पर कुछ दूरी पर दो युवकों के शव रक्तरंजित अवस्था में पड़े हुए हैं। उनकी शिनाख्त अर्पित खटे निवासी लवकुश विहार और गौरव मिश्रा निवासी गौरी नगर के रूप में हुई है।

गौरव के स्वजन भोपाल में रहते हैं। उसके पिता सशस्त्र बल में पदस्थ हैं जबकि अर्पित का परिवार महाराष्ट्र में रहता है। घटना स्थल पर काफी खून भी मिला है। गौरव के पेट पर चाकू के निशान थे जबकि अर्पित के पसली, हाथ और गले पर चाकुओं के निशान मिले हैं। मौके पर एक बिना नंबर की एक्टिवा भी मिली है। अर्पित खटे पर विभिन्न् थानों में लूट, हत्या का प्रयास, अड़ीबाजी, चोरी जैसे 15 अपराध दर्ज थे, जबकि गौरव पर चार अपराध दर्ज थे। हत्यारों की तलाश में पुलिस की टीमें रवाना की गई हैं।

बचने के लिए भागे बदमाश

टीआइ राजेंद्र सोनी के अनुसार घटना स्थल को देखकर लग रहा है कि गौरव और अर्पित ने हमला करने वालों के साथ संघर्ष भी किया। घटना स्थल से 200 मीटर दूरी पर खून मिला है। ऐसा लग रहा है कि दोनों को योजना के तहत बुलाया गया और उसके बाद उन पर चाकू से हमला कर दिया गया। इसके बाद दोनों वहां से भागे भी लेकिन हत्यारों की संख्या अधिक होने से वे बच नहीं पाए और करीब 200 मीटर दूर जाकर गिर पड़े। घटना स्थल के पास बहुत अंधेरा था और लोगों की आवाजाही भी कम है। ऐसी जानकारी भी मिली है कि तीन दिन पूर्व दोनों का कुछ लोगों से विवाद हुआ था।