Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

सिंधिया बोले- कांग्रेस ने MP को भ्रष्टाचार का अड्डा बनाया, इसलिए उखाड़ फेंकी सरकार

भोपाल: आज से ठीक एक साल पहले आज के ही दिन मध्यप्रदेश की सियासत में बड़ा उलटफेर हुआ था। तत्कालीन कमलनाथ सरकार के 28 विधायकों के इस्तीफे के बाद सरकार अल्पमत में आ गई थी। साथ ही कांग्रेस के सबसे बड़े नेताओं में शामिल ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी पार्टी छोड़ दी। परिणाम ये हुआ कि 20 मार्च को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी सीएम पद से इस्तीफा दे दिया। वहीं अब अपने एक साल पूरे होने पर सीएम शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया साझा प्रेस कांफ्रेंस की, इस बीच सिंधिया ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

BJP सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ‘जिस सरकार ने मध्यप्रदेश को भृष्टाचार का अड्डा बनाया था, उस सरकार को हमनें उखाड़ फेंका। एक वर्ष में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मध्यप्रदेश की जनता की सेवा के नये कीर्तिमान स्थापित किए हैं। कांग्रेस की तरफ से मेरे और शिवराज के बारे में कई बयान आ रहे हैं, इस बीच सिंधिया ने कहा कि, इबारत में लिखी हुई बात भी जो नहीं पहचान पाए, उस दल के बारे में क्या कहें। मुझे गर्व है सीएम शिवराज के नेत्रत्व में एक चिंता जो हमारी सरकार ने दिखाई है। मुझे विश्वास है मध्यप्रदेश प्रगति करेगा। मोदी जी के नेत्रत्व में राष्ट्र भी प्रगति कर रहा है।

CM के साथ सिंधिया ने किया पौधारोपण …
यही नहीं भाजपा सांसद सिंधिया ने सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ मिलकर भोपाल में स्मार्ट सिटी रोड पर वृक्षारोपण किया। उन्होंने कहा कि यह हम सभी का दायित्व है कि पर्यावरण के हित में अधिक से अधिक वृक्षारोपण करें।