Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

MiG 21 Crash: मुरार मुक्तिधाम में सैन्य सम्मान के साथ शहीद ग्रुप कैप्टन को दी अंतिम विदाई

ग्वालियर। एयरफाेर्स के मिग-21 बायसन लड़ाकू विमान क्रेश हादसे में शहीद हुए ग्रुप कैप्टन ए गुप्ता काे आज मुरार मुक्तिधाम में सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। नाै वर्षीय पुत्र अतिन ने उनकाे मुखाग्नि दी। इसके पूर्व मुक्तिधाम में एयरफाेर्स के अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी एवं विधायक सतीश सिंह सिकरवार ने पुष्पचक्र अर्पित करके श्रद्धांजलि अर्पित की।

एयरफाेर्स का मिग-21 बायसन लड़ाकू विमान बीते राेज टेकआफ के दाैरान क्रेश हाे गया था। इस हादसे में विमान में माैजूद ग्रुप कैप्टन ए गुप्ता शहीद हाे गए थे। सुबह उनकी पार्थिव देह काे महाराजपुरा एयरबेस पर लाया गया, जहां जवानाें ने उनकाे श्रद्धासुमन अर्पित किए। इसके बाद पार्थिव देह काे सैन्य सम्मान के साथ मुरार मुक्तिधाम लाया गया। जहां मुक्तिधाम के द्वार से लेकर सड़क काे पानी से धाेकर पूरी तरह साफ किया गया था। साथ ही गेट काे फूलाें से सजाया गया है। छत्री नंबर आठ पर ग्रुप कैप्टन ए गुप्ता की पार्थिव देह काे उनके पुत्र नाै वर्षीय अतिन ने मुखाग्नि दी। उनके बडे़ भाई मनीष गुप्ता सहित अन्य स्वजन भी माैजूद थे। शहीद ग्रुप कैप्टन के दाे पुत्र हैं, जिसमें नाै वर्षीय अतिन एवं तीन वर्षीय आद्विक हैं।

सैन्य सम्मान के साथ विदाईः जवानाें ने सशस्त्र सलामी देकर ग्रुप कैप्टन काे अंतिम विदाई दी, वहीं आर्टलरी प्लाटून के सात जवानाें ने बिगुल से मातमी धुन के जरिए श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके पूर्व एयरबेस से शहीद की पार्थिव देह काे खुले ट्रक में लाया गया, जिसे फूलाें से सजाया गया था।

इस तरह हुआ क्रैशः बताया जाता है कि प्रशिक्षण अभ्यास पर जाने से पहले विमान की रिफयूलिंग की गई थी। जैसे ही विमान टेक ऑफ हुआ तो अचानक खराबी आ गई। इस खराबी की वजह से ही विमान में आग लग गई और प्लेन क्रैश हो गया। जिसमें ग्रुप कैप्टन शहीद हो गए।