Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

मध्य प्रदेश में नाइट कर्फ्यू की अटकलें, सीएम शिवराज ने की COVID-19 स्थिति की समीक्षा

भोपाल। देश में एक बार फिर कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। ज्यादा समय नहीं हुआ, जब देशभर में कोरोना के मामले केवल 8 हजार से 9 हजार तक सिमटकर रह गए थे। हालांकि, पिछले कुछ दिनों से देश के कुछ राज्यों में मामलों ने रफ्तार पकड़ी और इस कारण देश के सभी राज्य अपनी सीमा में कोरोना की स्थिति को चिंता जता रहे हैं। मध्यप्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी राज्य में कोराना की स्थिति को लेकर बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगाया जा सकता है।

सीएम ने कहा, ‘मैंने टीम को रात के कर्फ्यू और अन्य चीजों पर चर्चा करने का निर्देश दिया है। प्रासंगिक विभाग एक बैठक की तैयारी करेंगे जो कल आयोजित की जाएगी। हमने कुछ निर्देश जारी किए हैं और जरूरत पड़ने पर कुछ और कदम उठाएंगे।’

बीते दिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा था कि मध्य प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए केंद्र सरकार पूरा सहयोग देगी। यहां स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। कोविड वैक्सीन भी आवश्यकतानुसार उपलब्ध कराई जाएगी।

बता दें कि रात के कर्फ्यू के विचार से पहले मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देख चिंतित मुख्यमंत्री ने दिशा-निर्देश जारी किए थे। इसके तहत भोपाल, इंदौर सहित महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों में सभी प्रकार के कार्यक्रमों में हाल की क्षमता से 50 फीसद लोग ही शामिल हो सकेंगे। मास्क नहीं पहनने वालों पर भी सख्ती की जाएगी। ग्राहक बिना मास्क के आए तो प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई की जाएगी। कार्यक्रमों में 200 से ज्यादा लोगों के शामिल होने पर रोक लगा दी गई।

भारत के कुछ ऐसे राज्‍य हैं जहां पर कोरोनावायरस मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। इनमें महाराष्‍ट्र, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, मध्‍य प्रदेश, गुजरात, दिल्‍ली और राजस्‍थान के नाम शामिल हैं।