Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

ग्वालियर में पुलिस आरक्षक ने व्हाट्सएप ग्रुप में भाजपा के लिए लिखे अपशब्द, तुरंत कर दिया सस्पेंड

ग्वालियर: ग्वालियर के एक वाट्सएप ग्रुप में पुलिस आरक्षक को अश्लील भाषा का इस्तेमाल करना महंगा पड़ गया. जिसके बाद आरक्षक सस्पेंड तो हुआ ही साथ ही उसपर विभागीय जांच भी शुरू हो गई है. अश्लील शब्द के प्रयोग के बाद हेड कांस्टेबल को ग्रुप से रिमूव भी कर दिया है|

दरअसल ग्वालियर में पदस्थ पुलिसकर्मी धर्मेंद्र पाठक ने एक व्हाट्सएप ग्रुप में भारतीय जनता पार्टी को लेकर अभद्र टिप्पणी(गाली) लिख दी. जिसके बाद ग्रुप के सदस्यों ने टिप्पणी पर आपत्ति ली. खास बात ये है कि अभद्र कमेंट जिस व्हाट्सएप ग्रुप में किया गया उस ग्रुप में खुद एसपी अमित सांघी भी जुड़े हुए हैं जब एसपी की नजर आरक्षक के अभद्र कमेंट पर पड़ी तो एसपी ने तत्काल आरक्षक के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई कर शुरू करते हुए विभागीय जांच बिठा दी. आपको बता दें कि ग्रुप में कोरोना को लेकर एक न्यूज की क्लिप डाली गई थी. जिस पर आरक्षक ने अपशब्द लिखे, और फिर उसके बाद ये भी लिखा कि ” अब कोरोना आ गए तो चुनाव कहा चला गया |

एसपी अमित सांघी का कहना हैं कि इस तरह की हरकतों से पुलिस की छवि खराब होती है. जो कि कतई बर्दाश्त करने योग्य नहीं है. आरक्षक धर्मेंद्र पाठक ने जिस ग्रुप में अपशब्द लिखे हैं उसमें कई सामाजिक और वरिष्ठ लोग जुड़े हुए हैं|