Logo
ब्रेकिंग
भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर याद किए गए नेताजी, रामगढ़ से जुड़ा है नेताजी के कई लम्हो का नाता । स्वीप के तहत जिला प्रशासन एकादश एवं दिव्यांग एकादश के बीच हुआ क्रिकेट मैच का आयोजन । नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती एवं पराक्रम दिवस के अवसर पर माल्यार्पण कार्यक्रम का हुआ आयोजन । रामप्रसाद चंद्रभान सरस्वती विद्या मंदिर में संस्कृति ज्ञान परीक्षा का आयोजन। मेदांता रांची द्वारा अधिवक्ता संघ परिसर में लगाया गया निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर । रामगढ़ विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस के पदाधिकारियों की हुई बैठक ।

झारखंड का दूसरा मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र का रामगढ़ में हुआ उद्घाटन ।

पहला केंद्र भी रामगढ़ में ही हैं स्थित, दोनों केंद्र को टाटा ग्रुप ने है बनाया बच्चों की मानसिकता बढ़ेगी तथा उनकी हॉलिस्टिक डेवलपमेंट काफी बढ़ेगा ।

Ramgarh/News lens:झारखंड का दूसरा मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र का रामगढ़ में हुआ उद्घाटन, पहला केंद्र भी रामगढ़ में ही हैं स्थित, दोनों केंद्र को टाटा ग्रुप ने है बनाया, मौके पर एसडीओ ने कहा इसमें काफी लेटेस्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हुआ है इससे बच्चों की मानसिकता बढ़ेगी तथा उनकी हॉलिस्टिक डेवलपमेंट काफी बढ़ेगा और सरकारी आंगनबाड़ी केंद्र को भी हम लोग इस प्रकार से स्ट्रीम लाइन में करने की कोशिश करेंगे, दूसरी तरफ टाटा स्टील के महाप्रबंधक ने कहा कि बहुत ही कम समय में हमने पुराने सेन्टर को अपग्रेड करके तैयार किया है प्ले स्कूल की तरह सभी सुविधाओं को हमने इसमें देने की कोशिश की है इस तरह के सेंटर से बच्चे काफी लाभान्वित और आकर्षित होंगे।

रामगढ़ जिले के रामगढ़ प्रखंड कार्यालय के समीप नवनिर्मित मॉडल आंगनवाड़ी सेंटर का उद्घाटन जिले के उपायुक्त संदीप सिंह ने किया। यह मॉडल आंगनबाड़ी सेंटर झारखंड राज्य का दूसरा ऐसा आंगनबाड़ी सेंटर है जिसमें बच्चों की सभी सुविधाएं मौजूद हैं तथा प्रदेश का पहला मॉडल आंगनबाड़ी सेंटर भी रामगढ़ जिले के घाटों में ही स्थित है जिले टाटा स्टील ने अपने सामाजिक दायित्व के तहत बनाया है।

इस मौके पर उपायुक्त के साथ अनुमंडल पदाधिकारी एवम टाटा स्टील के महाप्रबंधक के अलावा जिले के कई प्रशासनिक अधिकारियों के साथ छोटे-छोटे बच्चों के अभिभावक भी उपस्थित थे। सभी लोगों ने इस मॉडल आंगनबाड़ी सेंटर के सुविधा को काफी सराहा क्योंकि इस सेंटर में अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर भवन का निर्माण किया गया है जिसमें एक अच्छे किचन के साथ पानी पीने का आरओ वाटर मशीन भी लगा हुआ है।

मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी ने बताया कि मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र सीएसआर के तहत टाटा स्टील लिमिटेड द्वारा एक अच्छा इनिशिएटिव लेते हुए रामगढ़ जिले में बनाया गया है जो हमारे टाउन के हद में है इसमें जितने भी आधुनिक तरीके से बच्चों को सिखाया जा सकता है उसका पूरा ख्याल रखा गया है इसमें लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से बिल्डिंग बनाया गया है जिसमें क्लीन नेस विटनेस के साथ खेलने की पूरी व्यवस्था है किचन सुविधा युक्त है तथा पानी आरो सिस्टम का है कुल मिलाकर लेटेस्ट मॉडल के अनुसार बना है और इससे बच्चों की मानसिकता बढ़ेगी तथा उनकी हॉलिस्टिक डेवलपमेंट काफी बढ़ेगा और सरकारी आंगनबाड़ी केंद्र को भी हम लोग इस प्रकार से स्ट्रीम लाइन में लाने की कोशिश करेंगे l

मौके पर उपस्थित टाटा स्टील के महाप्रबंधक ने बताया कि यह सेकंड मॉडल आंगनबाड़ी सेंटर है झारखंड में, एक हमने घाटों में बनाया है और यह दूसरा है, तीन महीने से भी कम समय में इस को तैयार किया गया है पुराने सेंटर को अपग्रेड करके और इसमें सभी सुविधा वेस्ट हैं, प्ले स्कूल की तरह सभी सुविधाओं को हमने देने की कोशिश की है, इस तरह के सेंटर से बच्चे काफी लाभान्वित और आकर्षित होंगे, इसमें पहला रिएक्शन मुझे बच्चे के माता-पिता से मिला वह काफी खुश हैं टाटा स्टील के सामुदायिक दायित्व की यह एक कड़ी है इस तरह का यह दूसरा है पहला घाटों में और दूसरा यह है।


इस मौके पर उपस्थित जिले के मुर्रामकला केकरमाली टोला की एक सेविका ने बताया कि यह झारखंड में दूसरा आंगनबाड़ी सेंटर लांच हुआ है इससे हम लोगों के अंदर भी उत्साह बढ़ा है यह एक स्टैंडर्ड का आंगनबाड़ी मिला है जिससे बच्चों के अंदर भी हौसला बढ़ेगा, बच्चों को स्टैंडर्ड के साथ रखने की इच्छा आज पूरी हुई है, यहां पर सभी कुछ बहुत अच्छा है जिससे बच्चों के अंदर ज्ञान जरूर बढ़ेगा ।
मौके पर पहुंची एक बच्चे की माता ने बताया कि हम यहां पर पहली बार आए हैं ऐसा आंगनबाड़ी हमने पहले कभी नहीं देखा है बहुत खुशी हुई मेरी बेटी भी यहां आई है यहां पर बहुत खिलौना है जिससे बच्चों का सुविधा बढ़ा है, पहले मेरी बेटी बोलती थी कि आंगनबाड़ी नहीं जाएंगे और पढ़ेंगे नहीं लेकिन यहां आकर बोली कि अब जरूर आएंगे ऐसा आंगनबाड़ी बनते हमने पहली बार देखा है।
मौके पर स्कूल में पहुंचा एक छोटा बच्चा ने बताया कि मुझे यहां बहुत अच्छा लग रहा है हम झूला झूल रहे हैं।

nanhe kadam hide