Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

अब MP विधानसभा में पप्पू, फेंकू, झूठा, बिकाऊ जैसे शब्दों के इस्तेमाल पर लगेगी रोक, बन रही है नई संहिता

भोपाल: अब मध्य प्रदेश की विधानसभा में जल्द ही अशोभनिय टिप्पणीयों पर रोक लगेगी। क्योंकि विधानसभा सत्र के दौरान विधायकों द्वारा पप्पू, फेंकू, मंदबुद्धि, बंटाधार, झूठा, बिकाऊ जैसे शब्द इस्तेमाल किए गए जो बेहद आप्पतिजनक हैं। इसके लिए बाकायदा कुछ शब्दों की सूची तैयार की जा रही है। इसे लेकर विधानसभा स्पीकर गिरीश गौतम जल्द ही शब्दों की आचार संहिता लाने वाले हैं। मध्य प्रदेश विधानसभा का सचिवालय ऐसे शब्दों की सूची बना रहा है जो सदन में नहीं बोले जा सकते।

दरअसल, मौजूदा बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान कांग्रेस के जीतू पटवारी ने जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट को बिकाऊ कह दिया। इतना ही नहीं पटवारी ने वन मंत्री विजय शाह के अभिनेत्री विद्या बालन के साथ डिनर करने को लेकर भी बेहद आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया। वहीं दूसरी ओर बीजेपी विधायक ने भी विधानसभा में पप्पू और बंटाधार जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया। लेकिन जल्द ही इस पर रोक लग जाएगी। मध्य प्रदेश विधानसभा का सचिवालय ऐसे शब्दों की सूची बना रहा है जो सदन में नहीं बोले जा सकते। इसके बाद विधायकों की बाकायदा ट्रेनिंग होगी जिसमें उन्हें बताया जाएगा कि सदन के अंदर किस तरह की भाषा बोली जाए।