Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

भारतीय जन औषधि परियोजना के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से पुराने सदर अस्पताल बिजुलिया से लेकर अनुमंडल कार्यालय तक पैदल रैली निकाली गई

रामगढ़ : सिविल सर्जन रामगढ़ डॉ गीता सिन्हा मानकी के नेतृत्व में प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से पुराने सदर अस्पताल बिजुलिया से लेकर अनुमंडल कार्यालय तक पैदल रैली निकाली गई, जिसमे दर्जनों चिकित्सक, चिकित्सा कर्मी व सैकड़ों सहीयाओ ने भाग लिया l अच्छी दवाई, सस्ती दवाई , जन जन को समझाना है, जन औषधि के बारे में बताना है के नारे लगेl

डॉ ठाकुर मृत्युंजय सिंह ने बताया कि इस योजना को केंद्र सरकार ने शुरू किया है। यह योजना भारत के औषधि विभाग द्वारा शुरू की गई है। इसका उद्देश्य लोगों को जेनेरिक दवाएं (Generic Medicines) कम मूल्य पर उपलब्ध कराना है, जिससे गरीब व्यक्ति भी अपना इलाज अच्छी तरह करवा सकें।

इस योजना को “प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना” के नाम से जाना जाता है। इस योजना के अंतर्गत जो जेनेरिक दवाएं (Generic Medicines) दवाइयां लोगों को उपलब्ध कराई जाएंगी । उनका मूल्य कम होगा और उनकी क्वालिटी बेहतर होगी। सिविल सर्जन डॉक्टर गीता सिन्हा मानकी ने कहा कि रामगढ़ जिला में चार जन औषधि केंद्र खोले जाने हैं इससे संबंधित पूरी चली गई है जन औषधि केंद भारत में मरीजों का एक बड़ा वर्ग गरीब है और वह इलाज के लिए महंगी दवाएं नहीं खरीद सकता है। ऐसी स्थिति में इस योजना से उसे अच्छी गुणवत्ता वाली दवाएं कम कीमत पर मिल जाएंगी जिससे वह भी अपना इलाज अच्छी तरह करा सकेगा।
यह केंद्र सुबह 8:00 से शाम 8:00 बजे तक खुले रहेंगे।

हर प्रकार की दवाएं इन केंद्रों पर उपलब्ध होंगी। दवाओं के अतिरिक्त सर्जिकल सामान भी इन केंद्रों पर बेचे जाएंये। OTC (Over-the-counter) प्रकार की दवाएं बिना किसी प्रिसक्रिप्शन के कोई भी मरीज खरीद सकता है।दवाओं की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के लिए दवा का प्रत्येक बैच CPSUs द्वारा चेक किया जाएगा। जिन दवाओं को निजी सप्लायर द्वारा खरीदा जाएगा। उसकी जांच NABL से मान्यता प्राप्त लैब में की जाएगी। इस परियोजना में इस बात का पूरा ख्याल रखा गया है की दवाएं सुपर स्टॉकिस्ट /  जन औषधि केंद्र पहुंचने से पहले सही गुणवत्ता वाली हो।