Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

MP बोर्ड 10वीं-12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं को लेकर बड़ी खबर जानिए

भोपालः मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा ने 10वीं-12वीं के विद्यार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाओं की घोषणा कर दी है. प्रायोगिक परीक्षाएं अप्रैल माह में आयोजित की जाएगी. इसके पहले मार्च में माध्यमिक शिक्षा मंडल की टीमें सरकारी और निजी स्कूलों की प्रैक्टिकल लैबों का निरीक्षण करेंगी. 12 मार्च तक सभी टीमों को लैबों के निरीक्षण की रिपोर्ट स्कूल शिक्षा विभाग को सौंपनी होगी. जिसके बाद प्रायोगिक परीक्षाओं के लिए लैबों का चयन किया जाएगा|

10वीं-12वीं के विद्यार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाओं का टाइम टेबल 5 मार्च को जारी किया जाएगा. पहले 10वीं क्लास की प्रायोगिक परीक्षाएं होंगी. उसके बाद 12वीं क्लास की परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी. माध्यमिक शिक्षा मंडल की तरफ से इस बात की सूचना जारी कर दी गई है|

दरअसल, अब तक परीक्षाओं को दौरान कई बार लैब की खराब स्थिति मिलने की जानकारी मिलती थी. ऐसे में इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा यह निर्देश दिए गए हैं कि प्रैक्टिकल लैबों का निरीक्षण करने के बाद उसकी फोटो स्कूल शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर 12 मार्च तक अपलोड करनी होगी. अगर किसी लैब की स्थिति खराब पाई जाएगी, तो वहां परीक्षा का आयोजन नहीं कराया जाएगा. ताकि छात्रों को किसी प्रकार की परेशानी न हो|

सभी सरकारी और निजी स्कूलों की लैबों का निरीक्षण करने के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल की तरफ से 3 सदस्यीय टीमों का गठन किया जाएगा. जो 12 मार्च तक लैबों का निरीक्षण का निरीक्षण कर उनकी रिपोर्ट माध्यमिक शिक्षा मंडल को सौंपेगी. दरअसल, स्कूल शिक्षा विभाग का मानना है कि जल्दी रिपोर्ट सौंपने से परीक्षा की तैयारियों में समय मिल जाएगा|