Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

बंगाल चुनाव के बाद इंदौर का ट्रैफिक सुधारूंगा: विजयवर्गीय

इंदौर। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय इन दिनों बंगाल चुनाव में व्यस्त हैं। चुनाव संपन्न होने के बाद वह फिर से प्रदेश में सक्रिय होंगे। इसका खुलासा उन्होंने खुद शनिवार को एक आयोजन में इंदौर से जुड़ी ट्रैफिक समस्या को उठाते हुए किया। उन्होंने कहा कि बंगाल चुनाव के बाद मैं खुद ट्रैफिक सुधारने के लिए शहर की सड़कों पर उतरूंगा। विजयवर्गीय बोले कि पहले 30 से 40 शादियों में जाता था लेकिन खराब ट्रैफिक के कारण अब 10 शादियों में भी बमुश्किल जाना होता है। शहर का यातायात दिन ब दिन बिगड़ता जा रहा है। बंगाल चुनाव के बाद मैं यातायात सुधारने के लिए समय दूंगा। यह शहर के लिए बहुत जरुरी है।
उल्लेखनीय है कि विजयवर्गीय बंगाल चुनाव में व्यस्त होने के कारण शहर के आयोजन में ज्यादा शामिल नहीं हो पाते है। कोरोना के लॉक डाउन में जरूर वे अस्पतालों में जाकर चिकित्सा स्टाफ का उत्साह बढ़ाते रहे। उपचुनाव में भी उन्होंने कई विधानसभा क्षेत्रों में जाकर सभाएं ली थी। विजयवर्गीय शाम को पितृ पर्वत के आयोजन में भी भाग लेंगे। वहां एक साथ हजारों दीपक जलाएं जाएंगे।
उल्लेखनीय है कि शहर के ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर आए दिन कई योजनाएं बनती हैं लेकिन उसे अमल में नहीं लाया जाता। गत दिनों दो सड़क हादसों में आठ लोग जान गंवा चुके हैं। इसे लेकर अब जनप्रतिनिधि भी चिंतित हैं। पिछले दिनों सांसद शंकर लालवानी ने यातायात को लेकर बैठक ली थी और अब भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्र्गीय ने भी ट्रैफिक सुधारने को लेकर बयान दिया है। बंगाल चुनाव के बाद अब देखना होगा कि विजयवर्गीय शहर के ट्रैफिक व्यवस्था को कितना सुधार पाते हैं।