Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

हिंदू महासभा ने सोनिया, राहुल और कमलनाथ को लिखा पत्र

ग्वालियर: मध्यप्रदेश हिंदू महासभा कार्यकर्ता बाबूलाल चौरसिया को कांग्रेस में शामिल करने का मामला शांत होते नहीं दिख रहा है। एक तरफ कांग्रेस में ही फूट पड़ती दिख रही है। वहीं हिंदू महासभा भी कांग्रेस पर हमलावर हो गई। हिंदू महासभा ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी व मध्य प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ को पत्र लिखा है।

पत्र में हिंदू महासभा ने कहा है कि अब कांग्रेस में किसी की आस्था नहीं बची है। इसलिए कांग्रेस का नाम बदलकर गोडसेवादी कांग्रेस रख दिया जाना चाहिए। आम आदमी कांग्रेस में शामिल नहीं होना चाहता है।यह बात साबित होती है बाबूलाल चौरसिया को गांधीवादी कांग्रेस में शामिल करने से। बाबूलाल ने ग्वालियर में गोडसे का मंदिर स्थापित किया था, इसिलए कांग्रेस कार्यालय में नाथूराम गोडसे का चित्र भी लगा लेना चाहिए। यह सभी पत्र हिंदू महासभा के प्रदेश महामंत्री विनोद जोशी के नाम से लिखे गए हैं।

दौलतगंज स्थित हिंदू महासभा के कार्यालय से राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयवीर भारद्वाज ने बताया कि नाथूराम गोडसे के मंदिर स्थापना में मुख्य रूप से भूमिका निभाने वाले हिंदू महासभा को नेता बाबूलाल को कांग्रेस में शामिल करने के बाद कांग्रेस ने बता दिया है कि अब आम आदमी कांग्रेस में जाना नहीं चाहता है। इसलिए अब अखिल भारतीय कांग्रेस का नाम बदलकर गोडसेवादी कांग्रेस कर देना चाहिए। इस दौरान उन्होंने बाबूलाल चौरसिया के बयानों का भी खंडन किया है, जिसमें उन्होंने धोखे से गोडसे की पूजा कराने की बात कही थी। उनका कहना था कि हर कार्यक्रम में वह सबसे आगे रहते थे।

जयवीर भारद्वाज ने बताया कि बाबूलाल चौरसिया ने हिंदू महासभा के साथ धोखा कर कांग्रेस की सदस्यता ली है। उन्हें पहले ही हटा चुके हैं। साथ ही इस मामले में बाबूलाल चौरसिया की पत्नी भगवती देवी को भी 2 साल के लिए हिंदू महासभा के संयोजिका पद से निष्कासित किया जा रहा है।

हिंदू महासभा के नेता बाबूलाल चौरसिया की कांग्रेस में एंट्री का विवाद अब खेमेबाजी में बदल गया है। पार्टी में दो खेमे बन गए हैं। एक चौरसिया के पक्ष में है, दूसरा खिलाफ। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, लक्ष्मण सिंह के बाद दूसरे गुट में शनिवार को पार्टी नेता मानक अग्रवाल भी जुड़ गए। बोले- कमलनाथ बताएं कि वे गांधीवादी विचारधारा के साथ हैं या गोडसे की। वहीं विवाद के बीच मप्र के दौरे पर आए प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक ने कहा है- कांग्रेस हमेशा से ही महात्मा गांधी के दिखाए सिद्धांतों पर काम करती है।