Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

निरीक्षण पर जीआरएमसी पहुंचे मंत्री सारंग, अव्यवस्थाओं पर जिम्मेदारों की लगाई क्लास

ग्वालियर:  शनिवार को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग गजराराजा मेडिकल कॉलेज (जीआरएमसी) का जायजा लेने पहुंचे थे. इस दौरान वार्ड में जगह-जगह रास्ते में मरीज लेटे मिले तो कचरे से भरे डस्टबिन मिले. यह देखकर अधीक्षक डॉ. आरकेएस धाकड़ पर भड़क गए और उनसे व्यवस्था को लेकर कई सवाल किए. इस पर जब उन्होंने कहा कि सफाई करने वाली कंपनी यूडीएस हमारी नहीं सुनती तो मंत्री ने कंपनी को हटाने का निर्देश दे दिया|

निरीक्षण पर जीआरएमसी पहुंचे मंत्री सारंग, अव्यवस्थाओं पर जिम्मेदारों की लगाई क्लासनिरीक्षण के दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने मेडिकल कॉलेज में भर्ती मरीजों से व्यवस्था को लेकर बात भी की. इस दौरान आशा पाल नामक एक महिला ने मंत्री से कहा, मेरे बच्चे की एमआरआई होनी है. लेकिन ये लोग पिछले 8 दिनों से हमें परेशान कर रहे हैं. जब इनसे पूछा जाता है कि बच्चे की एमआरआई कब होगी तो ये लोग बात को टालते हुए कहते हैं कि कल होगी. ऐसा 8 दिनों से हो रहा और मेरे बच्चे की एमआरआई नहीं हो पा रही है. जिसकी वजह से बच्चे की परेशानी बढ़ रही है|

इस पर तिलमिलाए मंत्री ने कहा, यह गलत बात है. अगर किसी को इमरजेंसी है तो दो घंटे की ओपीडी में इनकी जांच क्यों नहीं हो सकती है? इसलिए इनकी अभी जांच कराएं. साथ ही उन्होंने डीन और अधीक्षक को ओपीडी 7 दिन 24 घंटे चलाने का भी निर्देश दिया. इसके अलावा इस दौरान उन्होंने तमाम व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया