मुरैना में “कोरोना वैक्सीन” लगने के बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की संदिग्ध मौत

मुरैना। जिले में कोरोना वैक्सीन लगाए जाने के बाद एक आंगनबाड़ी की फ्रंटलाइन वर्कर कि संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। जिसके बाद मृतका के परिजनों ने कोरोना वैक्सीन पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। परिजनों ने महिला की मौत का कारण कोरोना वैक्सीन को बताया हैं। तो वही डॉक्टर महिला की मौत को गंभीर बीमारी बता रहे हैं। मृतिका के पति ने कैलारस थाने में शिकायत दर्ज करा दी है। पुलिस अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

परिजन कर रहे जांच की मांग…

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की संदिग्ध मौत का मामला जिले के कैलारस ब्लॉक के ग्राम निराला की मिनी आंगनवाड़ी केंद्र से जुड़ा हुआ है जहां पर कार्यकर्ता सुमन खटीक को फ्रंटलाइन वर्करों की सूची में नाम आने के बाद कैलारस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई गई थी रात को ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की तबीयत बिगड़ने लगी उसे बुखार और सिर दर्द में शिकायत के बाद कैलारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जहां पर डॉक्टर ने उसका परीक्षण करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया जिसके बाद परिजनों ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सुमन खटीक की मौत कोरोना वैक्सीन के कारण होना बताया है और मामले में जांच की मांग की है

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा खुलासा…

अचानक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की मौत से हैरान परिजनों को जैसे तैसे समझाइस देकर शांत कराया गया। जिसके बाद मृतका का पोस्टमार्टम कराया गया है। महिला की संदिग्ध मौत पर डॉक्टरों का कहना है,कि मृतिका पहले से ही गंभीर बीमारी से ग्रसित थी और महिला की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कारण साफ हो जाएगा। फिलहाल महिला के पति रघुवीर खटीक में कैलारस थाने में मामले की जांच को लेकर शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस भी अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है ताकि महिला की मौत के मामले में सबकुछ साफ हो सके,कि आखिरकार महिला की मौत किस वजह से हुई है।

Whats App