Logo
ब्रेकिंग
Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l

कांग्रेस विधायक को भाजपा के पूर्व विधायक ने दी जान से मारने की धमकी

भोपाल:  मध्यप्रदेश विधानसभा में बृहस्पतिवार को कांग्रेस की एक महिला विधायक ने आरोप लगाया कि अलीराजपुर के पूर्व भाजपा विधायक और एक अन्य नेता ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी है। प्रदेश के आदिवासी बहुल झाबुआ जिले की जोबट विधानसभा सीट से कांग्रेस की विधायक कलावती भूरिया ने बृहस्पतिवार को विधानसभा में यह मुद्दा उठाया। भूरिया ने सरकार से धमकी देने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने और स्वयं को सुरक्षा दिये जाने की मांग की।

इस मामले में विधानसभा में उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘‘प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित करना राज्य सरकार का कर्तव्य है। सरकार भूरिया की सुरक्षा के लिये भी जरुरी कदम उठायेगी।’’ आदिवासी विधायक भूरिया ने आरोप लगाया कि अलीराजपुर के पूर्व भाजपा विधायक नागर सिंह चौहान और भाजपा के एक अन्य स्थानीय नेता ने हाल ही में उन्हें जान से मारने की धमकी दी और उनके साथ दुर्व्यवहार किया। इसके साथ ही धमकी देने वालों ने उन्हें (भूरिया) चेतावनी दी की उन्हें अलीराजपुर नहीं आना चाहिये क्योंकि अब यह झाबुआ जिले का हिस्सा नहीं है

आदिवासी बहुल झाबुआ जिले का पुनर्गठन करके 2008 में अलीराजपुर को अलग जिला बनाया गया था। भूरिया ने कहा कि अलीराजपुर में रहने वाले आदिवासियों की समस्याओं को हल करने के लिये उन्हें कई बार वहां जाना पड़ा। इसके बाद भूरिया ने विधानसभा परिसर में संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने इस बारे में मुख्यमंत्री को एक पत्र भी लिखा है।