Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

इंदौर के फरार भूमाफिया की प्रापर्टी का ब्योरा पहुंचा एसआइटी तक

इंदौर। जमीन घोटाले में फरार भूमाफिया पर पुलिस ने चौतरफा शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। उनके पार्टनर, स्वजन और रिश्तेदारों के नाम पर दर्ज कंपनियों का रिकार्ड खंगाला जा रहा है। नगर निगम से प्रापर्टी का ब्योरा मांगा है। स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) ने 25 से ज्यादा माफिया की सूची तैयार की है। एसपी (पूर्वी) आशुतोष बागरी के मुताबिक, नगर निगम से आरोपित सुरेंद्र संघवी, दीपक जैन, केशव नाचानी, ओमप्रकाश धनवानी सहित अन्य की प्रापर्टी की जानकारी मिल चुकी है। दिलीप जैन के नाम से कोई प्रापर्टी नहीं मिली।

कुछ संपत्तियां ऐसी मिली हैं जो माफिया ने रिश्तेदार और स्वजन के नाम से खरीदी हैं। पुलिस ने अवैध निर्माण तोड़ने के लिए नगर निगम को पत्र लिख दिया है। उधर, पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि पुष्प विहार जमीन घोटाले में एक मॉल संचालक और बाबी छाबड़ा भी शामिल है। केशव नाचानी से उसकी सौदेबाजी भी चल रही थी। बाबी छाबड़ा द्वारा ही संचालक मंडल बनाया गया था। उसके बेटे की शादी का कार्यक्रम भी इसी जमीन पर हुआ था। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने शहर के करीब 25 माफिया को चिह्नित किया है। इसमें बाबी छाबड़ा सहित छब्बू, बब्बू, शैलेंद्र दर्डा, नीलू पंजवानी सहित कई लोगों के नाम हैं।

भूमाफिया पर गाड़ी फोड़ने का आरोप

गौरीनगर निवासी गोपाल यादव ने अमरसिंह चौहान और उसके बेटे पर गाड़ी में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया है। इस मामले में विजय नगर थाने में शिकायत की गई है। आरोपित पूर्व पार्षद कमलेश चौहान का पति है और राधिकाकुंज जमीन घोटाले में भी शामिल रहा है। गोपाल के मुताबिक वह रेती-गिट्टी का व्यवसाय करता है। आरोपित उससे रुपये की मांग कर रहा था। चौहान ने भी गोपाल की शिकायत की है।