जीएसटी की टीम ने गिरवाई में तीन टॉफी कारोबारियों के यहां मारे छापे

ग्वालियर। स्टेट जीएसटी की एंटी एवेजन टीम ने सोमवार को गिरवाई स्थित तीन टॉफी कारोबारियों के यहां छापामार कार्रवाई की। तीन अलग-अलग टीमों ने तीनों फर्माें के यहां सुबह से कार्रवाई शुरू की। इनमें महालक्ष्मी, जय भवानी और किंग्स के नाम से टॉफी ब्रांड निकालने वाली कुल तीन फर्म शामिल हैं। मौके से दस्तावेज जब्त किए गए हैं और टैक्स चोरी की पड़ताल की जा रही है। एंटी एवेजन के ज्वाइंट कमिश्नर यूएस बैस ने बताया कि गिरवाई पर तीन टॉफी कारोबारियों के यहां टीम ने जांच शुरू की है। तीनों फर्माें के यहां टैक्स रिकॉर्ड निकाला जा रहा है। गोपनीय इनपुट के आधार पर कार्रवाई की गई है। तीनों फर्माें का माल अधिकतर बाहर के शहरों-राज्यों में सप्लाई होता है।

कारोबारी को तीन बार फोन लगाया,नहीं आया तो सील की फर्मः फूड एंड सेफ्टी की टीम ने सोमवार को अलग-अलग जगह कार्रवाई की। लक्ष्मीगंज स्थित अशोक अग्रवाल की गोली-बिस्किट की फर्म पर टीम पहुंची तो पता चला फर्म बंद थी। आसपास के फर्म मालिक अशोक अग्रवाल का मोबाइल नंबर लिया और कॉल किया। कारेाबारी ने पहले खुद को दूर बताया फिर अलग-अलग बहाने बनाए। इस तरह तीन बार कॉल करने के बाद भी वह नहीं आया। टीम ने फर्म को सील कर दिया। अब जांच के बाद ही फर्म खुलेगी। वहीं लक्कड़खाना पुल पर जय मां काली डेयरी पर मनोज पाल बिना लाइसेंस के कारोबार करता मिला। यहां गवाह के लिए टीम के सामने कोई नहीं आया तो तहसीलदार ममता शाक्य को बुलाना पड़ा। तहसीलदार के प्रयास से एक व्यक्ति गवाह बतौर सामने आया तब जाकर सैंपलिंग और दुकान बंद कराने की कार्रवाई हो सकी। टीम ने बजरंग डेयरी पिंटो पार्क से घी व दही के सैंपल लिए। हरियाणा डेयरी पिंटो पार्क से घी व पनीर के सैंपल लिए। तितुरिया कॉलोनी स्थित भारत बेकरी से मैदा व पपड़ी के सैंपल लिए गए। अजयपुर से फर्म भाटिया फूड प्रोडक्टस से कुकीज, पिस्ता कुकीज व वनीला आइस्क्रीम के सैंपल लिए।

Whats App