Logo
ब्रेकिंग
DISNEY LAND MELA का रामगढ़ फुटबॉल मैदान में हुआ शुभारंभ विस्थापितों की 60% की भागीदारी सुनिश्चित नहीं हुई, तो होगा CCl का चक्का जाम Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा*

बंद कराने पहुंचे कांग्रेसियों से बोले दुकानदार- न हमें कांग्रेस खाने को देती हैं न BJP

इंदौर: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों की वजह से प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरा देश परेशान हो गया है। बढ़ती महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है, वही विपक्ष को भी सत्ता पक्ष को घेरने का एक और मौका दे दिया है। प्रदेश में पेट्रोल, डीजल और गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर आज प्रदेश व्यापी आधे दिन के बंद का आह्वान किया गया है।

सुबह से ही कांग्रेसी बंद को सफल बनाने के लिए कवायद में जुटे हैं। सड़क पर उतर कर दुकानों को बंद करवाया जा रहा है और पेट्रोल, डीजल की मूल्य वृद्धि के खिलाफ किए जा रहे इस विरोध में समर्थन मांगा जा रहा है। कई स्थानों पर जहां बंद को स्वैच्छिक समर्थन मिल रहा है तो वहीं कई स्थानों पर नोकझोंक की स्थिति भी नजर आ रही है।

कुछ ऐसा ही नजारा आर्थिक राजधानी इंदौर में उस समय नजर आया, जब कांग्रेसी राजवाड़ा स्थित एक दुकान को बंद करवाने पहुंचे, लेकिन दुकानदार ने बंद को समर्थन ना देते हुए दुकान खुले रखने की बात है, जिस पर कांग्रेस से जुड़ी महिला नेत्रियों ने उसे अंधभक्त बताते हुए गलत बात के लिए विरोध जताने की सीख दे डाली। हालांकि नोकझोंक के बाद भी दुकानदार ने राजनीतिक पृष्ठभूमि से इनकार करते हुए अपने व्यापार को जारी रखने और बंद का समर्थन ना करने का फैसला लिया।

बहरहाल आर्थिक राजधानी इंदौर में बंद को लेकर फिलहाल कांग्रेस को सफलता मिलती नजर आ रही है, क्योंकि अधिकांश दुकानें फिलहाल बंद है, हालांकि इंदौर में व्यापार लगभग 11 बजे के बाद ही शुरू होता है और बंद दोपहर 1 बजे तक ही है।