Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

पुलिस की चेकिंग देख भागे कार सवार, पीछा करके पकड़ा तो मिला हवाला के 82 लाख

इंदौर: इंदौर में चेकिंग अभियान के तहत विजयनगर पुलिस ने एक बड़ी सफलता हासिल की है। पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक कार को रोका तो कार रुकने की बजाय और तेजी से भागी। पुलिस को शक हुआ और कार का पीछा और बड़ी मुश्किल से रुकवाया। कार की तलाशी ली गई तो आंखे खुली की खुली रह गई। कार में से पुलिस को 8200000 रुपए की नकदी मिली। वहां तैनात अधिकारियों ने पूरे मामले की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी। अब आरोपियों से पूरे मामले की पूछताछ की जा रही है।

विजय नगर पुलिस के चेकिंग अभियान में दौरान एक कार में से 8200000 रुपए जब्त किए। वरिष्ठ अधिकार पूरे मामले में पकड़े गए दोनों ही आरोपी सुनील और दीपक से पूछताछ करने में जुट गए। वहीं पकड़ा गया एक आरोपी बागली का रहने वाला है और दूसरा आरोपी लिंबोदी का रहने वाला है। वही प्रारंभिक पूछताछ में यह बात सामने आई है कि दोनों आरोपी हवाला का पैसा ठिकाने लगाने के लिए जा रहे थे। वही सूचना मिलते ही वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और पूरे मामले में पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की।

पुलिस का अनुमान है कि जल्द ही आरोपियों के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार कुछ और आरोपियों को भी गिरफ्तार किया जा सकता है। वहीं चेकिंग के दौरान जब पुलिसकर्मियों ने इन्हें रोका और इतनी बड़ी तादाद में पैसे के बारे में पूछताछ की तो उन्होंने पुलिसकर्मियों को रिश्वत देने की कोशिश भी की लेकिन पुलिस कर्मियों ने पूरे मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दे दी और पूरे मामले का खुलासा हो गया।