Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

आज से देश भर में फ़ास्ट टैग अनिवार्य, पुनदाग टोल प्लाजा NH-33 पर गाड़ियों की लंबी कतारें

सभी को लेन होंगे फास्टैग।। फास्टैग नही लगाएंगे तो आपको जेब से दोगुना पैसे देने होंगे।।

रामगढ़:- झारखंड बिहार की लाइफ लाइन (जीवन रेखा )कही जाने वाली NH-33 में पुनदाग टोल में आप देख सकते है किस तरह से गाड़ियों की लंबी कतारें लगी हुई है। सड़क और परिवहन मंत्रालय ने यह साफ कर दिया है कि 15 तारीख की मध्यरात्रि से जिन वाहनों में फास्टैग नहीं लगे होंगे उनसे दोगुणा पैसा लिया जायेगा. अब टोल प्लाजा के सभी लेन को फास्टैग लेन ही बना दिया जायेगा. इनमें अब कैस लेने के लिए कोई लेन नहीं होगा. मंत्रालय ने यह आदेश जारी किया है.

मंत्रालय ने पहले ही यह संकेत दिये थे कि आपकी गाड़ी में 15 फरवरी तक फास्टैग होना जरूरी है. अब फास्टैग का स्टीकर ना होने से आपको दोगुणा पैसा लगेगा पहले ये समयसीमा 1 जनवरी 2021 थी, जिसे बढ़ाकर 15 फरवरी कर दिया गया था. अब स्पष्ट है कि गाड़ी में फास्टैग ना होना बड़ा महंगा साबित होगा.।।

इस समय कुछ बैंकों की ओर से फास्टैग जारी किए जा रहे हैं. इनमें एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक, पेटीएम पेमेंट्स बैंक और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक शामिल हैं.

क्या है फास्टैग?

एनईटीसी यानी नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टॉल कलेक्शन फास्टैग इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम से काम करता है. इसे नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा विकसित किया गया है और आरएफआईडी तकनीक का इस्तेमाल कर टोल प्लाजा पर वाहन को बिना रोके ही टोल का भुगतान हो जाता है. फास्टैग एक स्टीकर है, जो आपकी कार के विंडशील्ड पर अंदर से चिपका होता है. ये रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआई) बारकोड के जरिए आपकी गाड़ी की रजिस्ट्रेशन डिटेल के साथ लिंक होता है

कार, बस, ट्रक या दूसरे प्रकार के निजी और व्यावसायिक वाहनों को टोल प्लाजा से गुजरने के लिए फास्टैग जरूरी है. वाहन मालिकों के पास फास्टैग खरीदने के कई विकल्प मौजूद हैं. आप इसे देशभर में किसी भी टोल प्लाजा से खरीद सकते हैं.। इसके लिए आपको अपने व्हीकल का रिजस्ट्रेशन डॉक्यूमेंट दिखाना होगा. फास्टैग खरीदने के लिए यह अनिवार्य केवाईसी प्रक्रिया है. फास्टैग को आप बैंकों, अमेजन, पेटीएम, एयरटेल पेमेंट बैंक आदि से खरीद सकते हैं. एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और कोटक बैंक से आप फास्टैग खरीद सकते हैं.