कांग्रेस विधायक से मांगी एक करोड़ की रंगदारी, न देने पर बाप-बेटे को जान से मारने की धमकी

रायसेन: मध्य प्रदेश के उदयपुरा से कांग्रेस विधायक देवेंद्र पटेल को एक करोड़ की फिरौती देने की धमकी मिली है। कांग्रेस विधायक को यह धमकी एक पत्र के जरिए मिली है। पत्र में साफ कहा गया है कि यदि उन्होंने रुपए नहीं दिए तो उनके दोनों बेटों को मौत के घाट उतार दिया जाएगा। फिलहाल विधायक की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, बीते 16 दिन से विधायक निवास पर धमकी भरा पत्र छोड़ने वाले संदिग्ध को बरेली पुलिस आज तक नहीं पकड़ पाई है। संदिग्ध आरोपी के हौंसले इतने बुलंद है कि एक के बाद एक जगह वो धमकी भरे पत्र छोड़ रहा है और पुलिस मूक दर्शक बनी तमाशा देख रही है। उसने कांग्रेस के उदयपुरा विधायक देवेंद्र पटेल के निवास पर और पूर्व विधायक भगवान सिंह राजपूत के साथ 12 अन्य लोगों को  धमकी भरे पत्र भेजे हैं।

बताया जा रहा है कि 29 जनवरी को शाम 4 बजे के करीब कांग्रेस के देवेंद्र पटेल विधायक उदयपुरा विधानसभा के बरेली स्तिथ  घर के बाहर एक अज्ञात व्यक्ति चिट्ठी रख गया था। विधायक निवास पर उस समय दिनेश व्यास उपस्थित थे। उन्होंने उस व्यक्ति से  पूछा किस काम के लिए आये हो उसने बताया कि मुझे विधायक पटेल से मिलना है। क्योंकि विधायक उस समय नर्मदा परिक्रमा पर थे तो अज्ञात व्यक्ति वहां पर एक चिट्ठी छोड़ कर चला गया। शाम को बड़े पुत्र नरेंद्र पटेल को कर्मचारी ने बताया कि चिट्ठी में बिहार के रहने वाले शंकर बिहारी ने उनसे एक करोड़ की राशि की मांग की है। रुपए नहीं देने पर विधायक पुत्र नरेंद्र सिंह पटेल को जान से मारने की धमकी दी गई है।

मामले में शिकायत के बाद आरोपी की तलाश जारी है। नगर में लगे हुए लगभग 35 सीसीटीवी फुटेज एकत्रित कर उसका विश्लेषण कर आरोपी की तलाश की जा रही है। पोस्टर पंपलेट छपवाकर  नगर बरेली के आसपास एरिया में चस्पा किए गए हैं। वहीं इस घटना को लेकर जिला पुलिस अधीक्षक के द्वारा अपराधी की जानकारी देने वाले को 5000रुपए इनाम देने की घोषणा की गई है। अपराध की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसेन ने घटनास्थल का निरीक्षण किया पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रकरण की लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है।

Whats App