इस दिन MP में होगा वर्चुअल मैराथन का होगा आयोजन, हजारों लोग घरों से प्रतियोगिता में लेंगे हिस्सा

इंदौर: शहर में ‘दौड़ लगाओ कोरोना भगाओ’ थीम पर मैराथन का आयोजन 28 फरवरी को होगा। अकेले इंदौर शहर में मैराथन में करीब 6 हजार से अधिक लोग शामिल होंगे। एकेडमी ऑफ इंदौर मैराथन इस बार एक्चुअल और वर्चुअल रेस का आयोजन कर रही है। नेहरू स्टेडियम से शुरू होने वाली इस रेस के साथ ही लोग वर्चुअल रेस में अपने घर गार्डन में दौड़ में शामिल हो सकते हैं।

विदेशों से भी प्रतिभागी होंगे शामिल

दौड़ लगाकर बीमारियों को भगाने के उद्देश्य से इस मैराथन का आयोजन किया जा रहा है। कोरोना से दूर रहने के लिए और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए नियमित रूप से रनिंग और जागरूकता लाने के लिए इस बार इस मैराथन की थीम ‘दौड़ लगाओ कोरोना भगाओ रखी गई है। पिछले 7 वर्षों से लगातार ये मैराथन आयोजित की जा रही है, जिसमें देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी प्रतिभागी शामिल होते रहे हैं।

महामारी के बाद सबसे बड़ी मैराथन

देश में कोरोना महामारी के बाद इंदौर में आयोजित हो रही ये मैराथन दौड़ सबसे बड़ी मैराथन दौड़ होगी। इंदौर सहित देशभर के कई शहरों से प्रतिभागी इस मैराथन में शामिल होते थे, लेकिन इस बार महामारी के कारण बाहर के लोगों के इसमें शामिल होने पर संशय है। हर साल बेंगलुरु, अहमदाबाद, जयपुर में भी मैराथन दौड़ का आयोजन होता है, लेकिन महामारी के कारण कहीं पर भी इस प्रकार की मैराथन का आयोजन नहीं किया गया है। हर साल 10 हजार से अधिक लोग इस मैराथन में शामिल होते हैं, लेकिन इस बार प्रतिभागियों की संख्या भी सीमित रखी गई है, जिनका रजिस्ट्रेशन पहले होगा, वह प्रतिभागी ही इसमें शामिल हो सकेंगे।

वर्चुअल मैराथन में भी शामिल होंगे हजारों लोग

एक्चुअल मैराथन के अलावा प्रतिभागियों के लिए वर्चुअल रेस का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें संख्या की कोई बाध्यता नहीं है। दोनों ही रेस के लिए उम्मीदवारों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। वर्चुअल मैराथन में प्रतिभागी अपने घर गार्डन या कहीं पर भी रनिंग कर सकते हैं। 24 घंटे के भीतर वह अपने सुविधा अनुसार रनिंग कर सकते हैं और प्रतिभागियों के अपना स्क्रीनशॉट भेजे जाने के 3 सप्ताह के भीतर एकेडमी द्वारा मेडल और टीशर्ट भेजे जाएंगे। बता दें कि 28 फरवरी को सुबह इस मैराथन का आयोजन इंदौर के नेहरू स्टेडियम से में किया जाएगा।

Whats App