Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

पुलवामा के शहीदों को हिंदू रक्षा दल ने दी श्रद्धांजलि, रखा 01 मिनट का मौन, वैलेंटाइन का किया विरोध

कारगिल युद्ध में लड़ाई लड़ चुके सूबेदार रतन यादव का स्वागत किया गया

बैलेंटाइन को देश की विरासत और संस्कृति के लिए खतरा बताते हुए वैलेंटाइन के प्रति विरोध व्यक्त किया

पुलवामा आतंकी हमले में देश ने अपने 40 सीआरपीएफ जवानों को खो दिया था

रामगढ़ : भारत के इतिहास में 14 फरवरी का दिन जम्मू कश्मीर की एक दुखद घटना के रूप में दर्ज है। वो काला दिन दो साल पहले 2019 में आज ही के दिन हुए पुलवामा आतंकी हमले में देश ने अपने 40 सीआरपीएफ जवानों को खो दिया था। ऐसे में भारतीय सेना के इन शहीदों के बलिदान को याद करते हुए पूरे देश भर में शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। रामगढ़ के ह्रदय स्थली सुभाष चौक पर भी हिंदू रक्षा दल के सदस्यों ने 01 मिनट का मौन रखकर व शहीद वीरों के तस्वीर के समक्ष दीप जलाकर और पुष्प अर्पित कर मां भारती के वीर सपूतों को याद किया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में कारगिल युद्ध में लड़ाई लड़ चुके रामगढ़ की पवित्र धरती पर जन्मे भुरकुंडा निवासी सूबेदार रतन यादव का हिंदू रक्षा दल के सदस्यों के द्वारा जोरदार स्वागत किया गया तथा भगवा अंग वस्त्र देकर उन्हें सम्मानित किया गया। इस मौके पर सूबेदार रतन यादव ने कारगिल युद्ध में प्राप्त अनुभव को हिंदू रक्षा दल के सदस्यों के बीच साझा किया ।

एक और जहां पुलवामा के शहीदों को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। वही आज के दिन मनाए जाने वाले बैलेंटाइन डे को देश की विरासत और संस्कृति के लिए खतरा बताते हुए वैलेंटाइन के प्रति विरोध व्यक्त किया ।