Logo
ब्रेकिंग
रांची रामगढ़ फोरलेन पर चेटर में सड़क दुर्घटना, दो घायल रामगढ़ के दो घरों में डकैती, परिवार को बंधक बनाकर लाखो की लूटपाट, CCTV में अपराधी हुए कैद । रजरप्पा मंदिर के पुजारी रंजीत पंडा का हृदय गति रुकने से नि-धन, शोक की लहर हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण

इनरव्हील क्लब के सौजन्य से 19 लोगों का डिवाइन ओंकार में हुआ मोतियाबिंद का ऑपरेशन

मानव सेवा सबसे बड़ा धर्म है : नीति अरोरा

रामगढ़ : समाज हित में बढ़-चढ़कर अपनी भागीदारी सुनिश्चित कराते हुए विभिन्न प्रकार के सामाजिक कार्यों से गरीब और जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए संकल्पित संस्था इनरव्हील महिला क्लब, रामगढ़ के सौजन्य से डिवाइन ओंकार आई हॉस्पिटल में 19 नेत्र रोगियों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन संस्था के खर्च पर कराया गया ।

वही इस मौके पर संस्था की समाजसेवी महिलाओं ने सफल ऑपरेशन के बाद अपने घर वापस लौट रहे हैं जरूरतमंदों को कंबल, चश्मा, दवाई सहित जरूरत की वस्तुएं दी l

इस नेक कार्य को करने वाली संस्था इनरव्हील क्लब की अध्यक्ष नीति अरोड़ा ने कहा कि मानविय सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं और मानव सेवा सबसे बड़ा धर्म है इसी उद्देश्य के तहत हमारी इस संस्था का स्थापना किया गया था। जो आज निरंतर कई वर्षों से समाज हित के कार्य करते आ रही हैं, उसी कड़ी में आज भी डिवाइन ओंकार आई हॉस्पिटल में 19 लोगों के मोतियाबिंद ऑपरेशन का खर्च उठाया गया ।

वही संस्था की सचिव मेघा बगड़िया ने कहा कि हमारी संस्था गरीबों की सहायता के लिए हर संभव प्रयास करती है और जैसी हमें सूचना मिलती है हम उस हिसाब से अपनी तत्परता दिखाते हुए उनकी मदद करते हैं।

डिवाइन ओंकार मिशन संस्था के सचिव राजेश नागी ने बताएं की इनरव्हील क्लब संस्था के द्वारा हमेशा इस तरह के अन्य कार्य किए जाते रहे है। उसी के तहत आज का भी कार्य किया गया, जो बेहद ही प्रशंसनीय है।