Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

#पतरातू प्रखण्ड के हरिहरपुर में सौर ऊर्जा सक्षम स्मार्ट आजीविका केंद्र का उद्घाटन किया गया।

पहली बार राज्य में 400 सौर ऊर्जा सक्षम स्मार्ट आजीविका केंद्र स्थापित किये जा रहे हैं

वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग झारखण्ड सरकार और संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) के सहयोग से रामगढ़ एवं जामताड़ा जिले के दूरदराज ग्रामीण क्षेत्रो में पहली बार राज्य में 400 सौर ऊर्जा सक्षम स्मार्ट आजीविका केंद्र स्थापित किये जा रहे हैं। उसी का एक यूनिट पतरातू प्रखण्ड के हरिहरपुर में उद्घाटन किया गया।

इस मौके पर मुख्य वन संरक्षक डॉ संजय श्रीवास्तव ने कहा कि इस तरह के अन्य आजीविका केंद्रों की स्थापना होने से समुदायों को आजीविका के अतिरिक्त अन्य अवसर उतपन्न होगा, ग्रामीणों की आय बढ़ेगी, लोगो का शहरी पलायन रुकेगा, महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा।

उन्होंने आगे कहा कि ग्रामीण युवाओं के क्षमता विकास के लिए प्रशिक्षण केंद की स्थापना की जा रही है साथ ही उन्होंने जलवायु परिवर्तन एव संशाधन संरक्षण के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से ग्रामीणों को बताया।

कैम्पा, वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने इन केंद्रों में आजीविका के विभिन्न विकल्पों जैसे मल्टीग्रेन पलवाईजर, मक्का पिलर मशीन व आटा चक्की कि सुविधा उपलब्ध कराएगी। वही ग्रामीणों के लिए एक प्रशिक्षण केंद्र खोल जाएगा जहा सामान्य सेवा केंद्र, ई- सेवा केंद्र के रूप में भी कार्य करेगा। इस तरह की पहल समुदाय से कमजोर वर्गों को काफी बल मिलेगा।

इस मौके पर वन मण्डल पदाधिकारी बी, पी कम्बोज, नावार्ड के जिला विकास प्रबन्धक उपेंद्र कुमार सहित सैकड़ों ग्रामीण एव समुदाय के लोग उपस्थित थे।