Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

सरकार की योजनाओं ने बदली गुलाबी देवी की जिंदगी, मनरेगा कूप से हुआ जीवन खुशहाल

रामगढ़: रामगढ़ जिला अंतर्गत रामगढ़ प्रखंड के दोहकातु ग्राम पंचायत के गंडके की ग्राम निवासी गुलाबी देवी द्वारा मनरेगा योजना के तहत कूप निर्माण किया गया। जिसके बाद उनकी आम दिनचर्या ही बदल गयी।

कूप निर्माण कराने के पूर्व गुलाबी देवी अपने जीवन यापन हेतु मजदूरी किया करती थी। एक दिन जब गुलाबी देवी घर पर थी तो उनके परिवार के सदस्यों से उन्हें जानकारी प्राप्त हुई की मनरेगा के तहत कूप स्वीकृत किया जाता है, जिसके बाद उन्होंने ग्राम रोजगार सेवक से संपर्क कर इस योजना की जानकारी ली, जिसके उपरांत उन्होंने योजना स्वीकृति हेतु आवेदन दिया। जिला प्रशासन द्वारा उनकी योजना के तहत कुल ₹367000 की स्वीकृति प्राप्त होते ही गुलाबी देवी अपने पूरे परिवार के साथ कूप निर्माण के कार्य में लग गई।

कूप निर्माण में ग्राम रोजगार सेवक द्वारा लगातार निरीक्षण एवं मार्गदर्शन दिया जाता रहा जिससे कूप काफी उपयोगी रहा। साथ ही साथ उक्त योजना में प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी एवं ग्राम रोजगार सेवक द्वारा भी कूप को पूरा करने में सहयोग किया गया। इस कूप की विशेषता है कि 20 फीट खुदाई के समय ही इसमें पानी निकल आया जिसका परिणाम है कि आज इस कूप में काफी पानी भरा हुआ है जिससे गुलाबी देवी के द्वारा कई तरह के फसलों की खेती की जा रही है।

गुलाबी देवी द्वारा आज कई प्रकार के फसल जैसे स्ट्रॉबेरी, टमाटर इत्यादि उत्पादन किया जा रहा है। उन्होंने अब तक इस कूप से सिंचाई कर ₹40000 से ₹50000 के लगभग आमदनी इकट्ठा कर ली है। मनरेगा का यह कूप गुलाबी देवी के लिए वरदान साबित हुआ जिसके कारण आज वो अपना जीवन यापन काफी अच्छे ढंग से कर रही हैं। इसके साथ ही अपने परिवार के साथ खुशी पूर्वक रह रहीं हैं। उन्हें अब रोजगार के लिए घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं है, गुलाबी देवी अपने गांव के लिए एक मिसाल बनकर सामने आई है। मनरेगा कूप से उनका जीवन पूरी तरह से परिवर्तित हुआ है और इसके लिए उन्होंने सरकार एवं जिला प्रशासन को हृदय से धन्यवाद दिया है।

इतना ही नहीं गुलाबी देवी के कूप से इनके आसपास के कई और लोग भी खेती कर अपना जीवन गुजर-बसर कर रहे हैं।