Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

दमोह के रजपुरा प्राथमिक स्कूल के शराबी शिक्षक का वीडियो वायरल

दमोह। हटा ब्लाक के रजपुरा प्राथमिक स्कूल में राशन वितरण के दौरान एक शिक्षक के शराब पीकर जमकर उत्पात मचाने का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। यह वायरल वीडियो लगभग पांच दिन पुराना बताया जा रहा है। जिसमें जनशिक्षा केंद्र रजपुरा के प्राथमिक स्कूल रजपुरा के प्रभारी प्रधान अध्यापक राजकुमार अठ्या शराब के नशे में झूमते हुए दिखाई दे रहे हैं। वीडियो में एक अभिभावक शिक्षक से कह रहे हैं कि सर आप स्कूल में शराब पीकर ना आएं, हमारे बच्चे भी इसी स्कूल में पढते हैं, बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ क्यों कर रहे हो। तो शिक्षक का कहना है कि जो तुम्हें करना है करो हम ऐसे ही स्कूल आएंगे।

स्वसहायता समूह की महिलाओं का मानना है कि यदि मध्यान भोजन का राशन घर-घर जाकर बांटना है तो टीचर की यह मनमानी गांव में नहीं चलती। बताया जा रहा है कि इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी बीआरसी को भी दी गई थी, लेकिन एक शिक्षक द्वारा सार्वजनिक रूप से इस तरह शराबखोरी की घटना पर 5 दिन बाद भी बीआरसी द्वारा कोई संज्ञान ना लिया जाना समझ से परे है। वहीं जब इस संबंध में बीआरसी टीकाराम कारपेंटर से बात की गई तो उनका कहना था कि पता करते है वीडियो किसने बनाया है। ज्ञात हो कि यह वही जनशिक्षा केन्द्र है जहां जनशिक्षकों द्वारा स्वयं ही स्लेट पेंसिल, स्कूलों में देने, जनशिक्षक की जमानत होने और शिक्षकों द्वारा प्रताड़ना के आरोपों के चलते इस समय सुर्खियों में है।