मुख्यमंत्री के पैतृक पंचायत में आज सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन हुआ

उपायुक्त ने ग्रामीणों की समस्याओं का ऑन स्पॉट निष्पादन के लिए संबंधित विभाग को निर्देश जारी किये

yamaha

मुख्यमंत्री के पैतृक पंचायत में आज सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें उपायुक्त ने सैकड़ों की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों की समस्याओं का ऑन स्पॉट निष्पादन के लिए संबंधित विभाग को निर्देश जारी किये।


रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड में ऊपरबरगा पंचायत के उत्क्रमित उच्च विद्यालय ऊपरबरगा में आज “सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसकी अध्यक्षता जिले के उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने किया। इस आयोजन में जिले के सभी विभागों के तमाम प्रशासनिक पदाधिकारी उपस्थित थे। इस क्रम में सैकड़ों की संख्या में पहुंचे महिला तथा पुरुष ग्रामीणों ने अपनी-अपनी समस्याएं उपायुक्त के समक्ष रखी तथा उपायुक्त ने उन समस्याओं का निदान के लिए संबंधित विभाग को ऑन स्पॉट निर्देश दिए। आज का यह कार्यक्रम इसलिए महत्वपूर्ण था कि यह पंचायत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के पैतृक गांव का पंचायत है। मौके पर जिले के उपायुक्त संदीप सिंह ने बताया कि “सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम के तहत हमलोग एक-एक पंचायत और सभी प्रखंड में यह कार्यक्रम कर रहे हैं उद्देश्य यह है कि लोगो की बेसिक समस्या को लेकर उन्हें प्रखंड या जिला मुख्यालय जाना पड़ता है, जिसको लेकर शासन खुद उनके द्वार पर जाकर उनकी समस्या का समाधान करे, उसके लिए सभी विभागों के काउंटर लगे हुए हैं और स्पेशल कैंप लगाने का भी सभी विभागों को निर्देश दिया गया है ताकि लोगों के समस्याओं का निष्पादन यहीं पर हो सके।

मौके पर एक लाभुक ने बताया कि हमारे पंचायत में सरकार आपके द्वार का आयोजन हुआ है जिसमे डीसी साहब आये हैं और उनको हमलोग अपने समस्या से अवगत कराए है जो काफी अच्छा लगा और डीसी साहब ने समस्या को दूर करने का आश्वसन दिया है
एक महिला लाभुक ने बताया कि जनता दरबार लगा है हम डीसी साहब को अपनी समस्या बताने आए हैं हमे नई योजनाओं की जानकारी मिल रही है जिसे हम जान नही पाते थे।
एक महिला लाभुक ने बताया कि हमारे गांव में शिविर लगा है जिसमें सभी सरकारी योजनाओं के प्रति हम लोगों को जागरूक किया जा रहा है और हम लाभान्वित हो रहे हैं साथ ही हमे यह भी बताया जा रहा है कि हम योजनाओं से कैसे लाभ ले सकते हैं।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.