CM शिवराज की दो टूक- अफसरों से हर महीने लिया जाएगा काम का हिसाब, लापरवाहों की खैर नहीं

भोपाल: सीएम शिवराज सिंह ने सोमवार को कलेक्टर कमिश्नर कॉन्फ्रेंस की अध्यक्षता की। सीएम ने अधिरकारियों के साथ बैठक करते हुए कहा कि 29 दिन काम के बाद 30 वें दिन मूल्यांकन किया जा रहा है। यही सुशासन का आधार है।

अफसर अपना बेस्ट दें

सीएम ने बैठक के दौरान कहा कि अफसर अपना बेस्ट दें , क्योंकि सभी लोग जनता की सेवा और प्रदेश के विकास के लिए हैं। इस दौरान सीएम ने कहा कि कोई भी मुख्यमंत्री लगातार हर महीने अधिकारियों के साथ चर्चा नहीं करता होगा,लेकिन प्रदेश में सुशासन और प्रभावी ढंग से काम करने के लिए इस तरह की बैठकें समय-समय पर होना महत्तवपर्ण है।

अधिकारियों को सीएम की दो टूक

बैठक के दौरान सीएम ने कहा कि मैं खुद अपने काम का मूल्यांकन करता हूं। अच्छा काम करने वालों की पीठ थपथपाई जाएगी साथ ही काम नहीं करने वाले अफसरों को ऊंचे पदों पर रहने का कोई अधिकार नहीं है।

साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं पर चिंता

साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं पर भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने चिंता जताई है. सीएम ने कहा कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए जिला स्तर पर छोटी शुरुआत होनी चाहिए। जिला स्तर पर प्रयोग सफल रहने पर इसे पूरे प्रदेश में बढ़ाया जाएगा।

Whats App