Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

कमलनाथ ने CM शिवराज से किसान आंदोलन पर कही ये बात, राजनीति से हटकर सोचने की दी सलाह

भोपाल: पूर्व सीएम कमलनाथ ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सीएम हाउस में मुलाकात की। इस साल दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात है। इसे शिष्टाचार मुलाकात बताया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक मुलाकात के दौरान आगामी बजट सत्र और विधानसभा उपाध्यक्ष पद, किसान आंदोलन समेत कई मुद्दों को लेकर चर्चा हुई। करीब दोनों नेताओं के बीच 35 मिनट तक चर्चा हुई।

आगामी बजट सत्र पर चर्चा

सीएम शिवराज सिंह चौहान और पूर्व सीएम कमलनाथ के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। आगामी बजट सत्र को लेकर दोनों के बीच बातचीत हुई। बजट सत्र 22 फरवरी से शुरू होने जा रहा है। कोरोना के कारण करीब 1 साल बाद 1 महीने का विधानसभा सत्र होने जा रहा है।

पिछला विधानसभा सत्र कोरोना संक्रमण के कारण टाल दिया गया था। विपक्ष के नेता कमलनाथ ने इसे विशेषाधिकार हनन मानते हुए संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी किए थे। इसी विधानसभा सत्र में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद का भी चुनाव होना है। इस पर भी कमलनाथ और शिवराज के बीच चर्चा हुई।

कई मुद्दों पर हुई बातचीत

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसान आंदोलन, कृषि कानूनों और प्रदेश के विकास समेत जनहित के कई मुद्दों पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक कमलनाथ ने कहा कि राजनीति से हटकर हर किसान हितैषी व्यक्ति को कृषि कानूनों का विरोध करना चाहिए। इन कानूनों से खेती किसानी को भारी नुकसान होगा। बैठक के दौरान प्रदेश के विकास और जनहित से जुड़े मुद्दों को लेकर कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान को कई सुझाव भी दिए।