Logo
ब्रेकिंग
DISNEY LAND MELA का रामगढ़ फुटबॉल मैदान में हुआ शुभारंभ विस्थापितों की 60% की भागीदारी सुनिश्चित नहीं हुई, तो होगा CCl का चक्का जाम Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा*

कमलनाथ ने CM शिवराज से किसान आंदोलन पर कही ये बात, राजनीति से हटकर सोचने की दी सलाह

भोपाल: पूर्व सीएम कमलनाथ ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सीएम हाउस में मुलाकात की। इस साल दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात है। इसे शिष्टाचार मुलाकात बताया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक मुलाकात के दौरान आगामी बजट सत्र और विधानसभा उपाध्यक्ष पद, किसान आंदोलन समेत कई मुद्दों को लेकर चर्चा हुई। करीब दोनों नेताओं के बीच 35 मिनट तक चर्चा हुई।

आगामी बजट सत्र पर चर्चा

सीएम शिवराज सिंह चौहान और पूर्व सीएम कमलनाथ के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। आगामी बजट सत्र को लेकर दोनों के बीच बातचीत हुई। बजट सत्र 22 फरवरी से शुरू होने जा रहा है। कोरोना के कारण करीब 1 साल बाद 1 महीने का विधानसभा सत्र होने जा रहा है।

पिछला विधानसभा सत्र कोरोना संक्रमण के कारण टाल दिया गया था। विपक्ष के नेता कमलनाथ ने इसे विशेषाधिकार हनन मानते हुए संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी किए थे। इसी विधानसभा सत्र में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद का भी चुनाव होना है। इस पर भी कमलनाथ और शिवराज के बीच चर्चा हुई।

कई मुद्दों पर हुई बातचीत

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसान आंदोलन, कृषि कानूनों और प्रदेश के विकास समेत जनहित के कई मुद्दों पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक कमलनाथ ने कहा कि राजनीति से हटकर हर किसान हितैषी व्यक्ति को कृषि कानूनों का विरोध करना चाहिए। इन कानूनों से खेती किसानी को भारी नुकसान होगा। बैठक के दौरान प्रदेश के विकास और जनहित से जुड़े मुद्दों को लेकर कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान को कई सुझाव भी दिए।