Logo
ब्रेकिंग
रांची रामगढ़ फोरलेन पर चेटर में सड़क दुर्घटना, दो घायल रामगढ़ के दो घरों में डकैती, परिवार को बंधक बनाकर लाखो की लूटपाट, CCTV में अपराधी हुए कैद । रजरप्पा मंदिर के पुजारी रंजीत पंडा का हृदय गति रुकने से नि-धन, शोक की लहर हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण

ट्रांसफॉर्मिंग केजीबीवी कार्यक्रम के तहत हुआ कार्यशाला का आयोजन

पेंट माई सिटी अभियान के तर्ज पर केजीबीवी विद्यालयों में शुरू होगा पेंट माई स्कूल अभियान

उपायुक्त द्वारा किया गया शिक्षक वर्क बुक का विमोचन

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों के माध्यम से और भी प्रभावी रूप से बच्चों को शिक्षित करने के संबंध में हुई चर्चा

रामगढ़: ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय कार्यक्रम के तहत बृहस्पतिवार को जिला समाहरणालय सभागार में उपायुक्त श्री संदीप सिंह की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।*

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों के माध्यम से बच्चियों को और भी प्रभावी रूप से पढ़ाई के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों में भी विकास हेतु ट्रांसफॉर्मिंग केजीबीवी कार्यक्रम की शुरुआत उगम एजुकेशन फाउंडेशन के साथ कोलैबोरेशन करते हुए जिला प्रशासन द्वारा की गई है।

कार्यशाला के दौरान उगम एजुकेशन फाउंडेशन की संस्थापक एवं निर्देशक श्रीमती लोपा गांधी द्वारा उपायुक्त, उप विकास आयुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी सहित अन्य को जानकारी दी गई कि कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में प्रभावी रूप से बच्चियों को शिक्षित करने के उद्देश्य से जिले के सभी चार कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में 2 सितंबर 2020 से ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। इस कार्यक्रम के माध्यम से विद्यालयों की वार्डन, शिक्षक एवं बच्चों के साथ समन्वय स्थापित कर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जिसके तहत कार्यक्रम के शुरू होने के बाद से अब तक कुल 23253 फोन कॉल बच्चों को शिक्षकों द्वारा किए गए हैं जिनके माध्यम से बच्चों को लॉकडाउन के दौरान घर में रहते हुए ही अपने शिक्षण कार्य को जारी रखने, बच्चो को सामाजिक एवं भावनात्मक सहयोग आदि प्रदान किया गया है। इसके साथ ही समय-समय पर निबंध लेखन, डायरी लेखन, ऑनलाइन लर्निंग क्लासेस, वीडियो निर्माण आदि के माध्यम से भी बच्चों को लॉकडाउन के दौरान शिक्षा से जोड़े रखने का प्रयास किया गया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि जैसा कि अब 10वीं और 12वीं की बच्चियों के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय खुल गया है, वैसे समय में हम सब ने यह प्रयास किया है कि विद्यालयों में होने वाली प्रार्थना, उपलब्ध पुस्तकालय, लैब आदि के माध्यम से भी बच्चों में शिक्षा के प्रति विशेष रूचि पैदा की जा सके।

बैठक के दौरान उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने सभी कस्तूरबा गांधी विद्यालयों की वार्डन, शिक्षिकायें एवं बच्चियों से बात करते हुए ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय कार्यक्रम के शुरू होने के बाद उन्हें मिल रहे लाभ की जानकारी लेते हुए कार्यक्रम के तहत हो रहे कार्यो की विस्तार से समीक्षा की। इस दौरान उपायुक्त ने उगम एजुकेशन फाउंडेशन के प्रतिनिधियों को कस्तूरबा गांधी विद्यालय के वार्डन एवं अन्य कर्मियों के साथ समन्वय करते हुए विद्यालय को मॉडल विद्यालय बनाने हेतु जिन जिन वस्तुओं आदि की जरूरत है उसकी सूची जिला स्तर पर उपलब्ध कराने की बात कही।

अनुमंडल पदाधिकारी श्रीमती कीर्ति श्री जी के निर्देशन में चल रहे ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय कार्यक्रम के प्रति हुए कार्यों पर उपायुक्त ने खुशी जाहिर करते हुए इसे और व्यापक रूप से चलाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में पेंट माय सिटी अभियान की तर्ज पर पेंट माय स्कूल अभियान शुरू करने की बात कही। इसके लिए उन्होंने विद्यालय में पढ़ रही बच्चियों में से ही जिन बच्चियों को पेंटिंग में रुचि है उन्हें सामने लाकर अभियान का हिस्सा बनाने की अपील की।

कार्यशाला के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी श्रीमती कीर्ति श्री जी ने उगम एजुकेशन फाउंडेशन द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए सभी शिक्षिकाओं एवं बच्चियों से इस कार्यक्रम के माध्यम से मिल रहे लाभ के संबंध में चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम को और भी सफल बनाने के उद्देश्य से नियमित अंतराल पर बैठकों का आयोजन किया जाएगा एवं समय-समय पर जो भी कमियां सामने आएंगे उन्हें दूर करने हेतु आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

बैठक के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी ने सभी शिक्षिकाओं एवं बच्चियों से ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय कार्यक्रम को और सफल बनाने हेतु कई सुझाव मांगे।

कार्यशाला के दौरान ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय के तहत अब तक उत्कृष्ट कार्य करने वाली वार्डन, शिक्षिकाओं एवं कार्यक्रम में भाग लेने वाली बच्चियों को उपायुक्त, उप विकास आयुक्त एवं अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान अनुमंडल पदाधिकारी ने सभी से जिन लोगों को सम्मानित किया गया है उनसे सीख लेते हुए अपने कार्यों को और भी बेहतर करने की अपील की।

कार्यशाला के दौरान उपायुक्त, उप विकास आयुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी सहित अन्य के द्वारा ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी कार्यक्रम के तहत बनाए गए शिक्षक वर्ग बुक का विमोचन किया गया। गौरतलब हो कि इस वर्क बुक के माध्यम से शिक्षक अपने द्वारा किए गए कार्यों आदि से संबंधित जानकारी वर्क बुक में भरेंगे एवं समय-समय पर समीक्षा बैठक के दौरान इन पर चर्चा की जाएगी।

कार्यशाला के दौरान उगम एजुकेशन फाउंडेशन के ऑपरेशन हेड श्री संजय झा एवं प्रोग्राम हेड श्रीमती केना होलकर के द्वारा पीपीटी के माध्यम से सभी शिक्षिकाओं एवं बच्चियों को ट्रांसफॉर्मिंग कस्तूरबा गांधी विद्यालय कार्यक्रम के उद्देश्यों एवं इसके तहत किए जाने वाले कार्यो की विस्तार से जानकारी दी गई। इस दौरान उन्होंने शिक्षकों एवं बच्चियों द्वारा दिए गए सुझाव एवं किए गए प्रश्नों का भी उत्तर दिया।

*उपरोक्त के अलावा कार्यशाला के दौरान जिला शिक्षा पदाधिकारी, एडीपीओ, एपीओ, एडीएफ, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी, डीएमएफटी के प्रोजेक्ट ऑफिसर, सभी कस्तूरबा गांधी विद्यालयों की वार्डन, शिक्षिकाओं एवं बच्चियों सहित अन्य उपस्थित थे।